पीडीकेएफ को महिला सशक्तिकरण के लिए मिला पीएचडी चैंबर अवॉर्ड‘


जयपुर, 25 फरवरी। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए प्रिंसेज दीया कुमारी फाउंडेशन (पीडीकेएफ) को दिल्ली में आयोजित पीएचडी चैंबर्स फैमिली वेलफेयर फाउंडेशन की महिला व बाल समिति की ओर से प्रतिष्ठित पांचवां वुमन अस्तित्व सम्मान 2020 पुरस्कार प्रदान किया गया ।


पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के प्रेसीडेंट, डॉ. डी. के. अग्रवाल और पीएचडी चैंबर्स फैमिली वेलफेयर फाउंडेशन की महिला व बाल समिति की चेयरपर्सन, सुश्री अनुराधा गोयल ने  पीडीकेएफ की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, सुश्री शिविना कुमारी और पीडीकेएफ की महासचिव, सुश्री रमा दत्त को यह पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया।


पीडीकेएफ की प्रेसीडेंट, राजकुमारी दीया कुमारी ने कहा कि हम महिला सशक्तिकरण के अपने कार्यों  के लिए यह पुरस्कार प्राप्त करके गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं और इसके लिए पीएचडी चैंबर्स फैमिली वेलफेयर फाउंडेशन की महिला व बाल समिति को धन्यवाद देना चाहेंगे। सुश्री शिविना कुमारी ने कहा कि हम इस सम्मान के लिए बहुत आभारी हैं और हमारा मानना हैं कि जब आप एक महिला को सशक्त बनाते हैं तो आप उनके पूरे परिवार व उनके समुदाय को सशक्त बनाते हैं।‘


पीएचडी फैमिली वेलफेयर फाउंडेशन की चेयरपर्सन सुश्री अनुराधा गोयल ने कहा कि पीएचडी चैंबर्स फैमिली वेलफेयर फाउंडेशन की महिला व बाल समिति परिवार प्रिंसेज दीया कुमारी फाउंडेशन के साथ सार्थक जुड़ाव की उम्मीद करता है।‘


पीडीकेएफ के बारे में
प्रिंसेज दीया कुमारी फाउंडेशन गत पांच वर्षों से राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों की वंचित महिलाओं व बालिकाओं के सशक्तिकरण के लिए काम कर रहा है। पीडीकेएफ राजस्थान में अपने पांच केंद्रों में यह कार्य करता है। कौशल निर्माण व रोजगार, बालिका शिक्षा वित्तीय व डिजिटल साक्षरता तथा स्वास्थ्य व स्वच्छता इसके मुख्य कार्यक्षेत्र हैं। पीडीकेएफ महिलाओं को नगद लेनदेन के स्थान पर बैंक हस्तांतरण के माध्यम से भुगतान करने वाले के लिए  खाते खोलने मे मदद करने के जरिए उनके आर्थिक सशक्तिकरण पर जोर देता है। महिलाओं को बैंकिंग सेवाओं, एटीएम कार्ड के उपयोग व धोखाधड़ी से बचने के लिए प्रशिक्षित करने के उद्देश्य से फाउंडेशन द्वारा फाइनेंशियल लिटरेसी वर्कशॉप्स‘ का आयोजन किया जाता है।


पीडीकेएफ का प्रोजेक्ट प्रगति राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं के लिए सस्टेनेबल रोजगार उत्पन्न करने पर केंद्रित है। फाउंडेशन का शिक्षा दीया प्रोजेक्ट अभावग्रस्त बालिकाओं को छात्रवृत्ति प्रदान करके उनकी शिक्षा में मदद करता है और भविष्य के रोजगार हेतु उनके लिए डिजिटल साक्षरता पाठ्यक्रम भी कराए जाते हैं। शिक्षा दीया प्रोजेक्ट के अंतर्गत किशोर स्वास्थ्य एवं मासिक धर्म स्वच्छता से संबंधित कार्य भी किए जाते हैं।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को