आज है देव उठनी एकादशी शुरू होंगे मांगलिक कार्य


एच. के. शर्मा जयपुर।


हिन्दू धर्म में कार्तिक माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी को चार माह विश्राम में सोते हुए भगवान विष्णु और अन्य देवो को जगाने की परम्परा रही है, ताकि हमारे शुभ कायों जैसे विवाह, मुंडन, यग्योपवीत व गृहप्रवेश में हमे उनका आशीर्वाद मिल सके। इस दिन शालिग्राम रूपी भगवान विष्णु से तुलसी जी का विवाह भी कराया जाता है। आज के दिन सांय काल मे चूने और गेरू से रंगोली बनाई जाती है तथा घी के 11 दीपक जलाये जाते हैं।  भगवान विष्णु को ऋतु फल जैसे गन्ना, केले, सिंघाड़े, मूली तथा लड्डू व तक पताशों का भोग लगाया जाता है और उनसे जागकर उठने की प्रार्थना की जाती है। 'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय' का जाप किया जाता है।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को