इस बार अलग लक्षणों के साथ बीमार कर रहा डेंगू वायरस में बदलाव के कारण मुश्किल हुआ पहचानना


कार्यालय संवाददाता जयपुर।


प्रदेश में डेंगू की काफी मार देखने को मिल रही है। इस सीजन में अभी तक डेंगू के हजारों मामले सामने आ चुके हैं और इससे कई मौतें भी हुई हैं। लेकिन इस बार डेंगू कुछ अलग रूप में सामने आया है। डेंग के सामान्य लक्षणों से अलग, इस बार लक्षण काफी कमजोर से और फिर अचानक बेहद गंभीर दिख रहे हैं जिससे मरीजों के लिए तकलीफ बढ़ गई है। अलग तरह के लक्षणों के कारण इसकी पहचान भी देरी से हो रही है जो मरीज के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो रही है। कमजोर लक्षणों से हो रही शुरूआतः एचसीजी हॉस्पिटल के सीनियर फिजीशियन और क्रिटिकल केयर एक्सपर्ट डॉ. पंकज आनंद ने यहां लोगों को जागरूक करते हुए बताया कि इस सीजन में डेंगू के लक्षण बदल रहे हैं। कई केसों में डेंगू में होने वाला बुखार काफी कम हो गया है और उम्मीद के मुताबिक प्लेटलेट्स कम नहीं होने जैसे लक्षण सामने आ रहे हैं। यहां तक कि जब डॉक्टर डेंगू की जांच करवा रहे हैं तो वह टेस्ट पॉजिटिव नहीं आ रहा है जिसके कारण मरीज को क्या उपचार दिया जाए, यह तय नहीं हो पा रहा। बुजुर्गों की अपेक्षा जवान लोगों में (20-30 वर्ष) गंभीर डेंगू के मामले ज्यादा देखने को मिल रहे हैं। __ वायरस में बदलाव है कारण: डॉ.पंकज आनंद ने बताया कि बीते कुछ समय में डेंगू के वायरस में कुछ बादलाव आए हैं जिसके कारण यह बदलाव सामने आ रहे हैं। वायरस में आए बदलाव के कारण इसकी पहचान करना भी काफी मुश्किल है। इसीलिए यह आवश्यक है कि अचानक चक्कर आने, हाथ-पैरों में सूजन, हल्का बुखार या कमजोरी जैसे लक्षण दिखें तो तुरंत विशेषज्ञ से संपर्क कर यह सुनिश्चित कर लें कि यह डेंगू तो नहीं। एंटीबायोटिक्स का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह से ही करें और खूब पानी पीयें।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को