नाहटा को कई संस्थाएं करेंगी सम्मानित

      दिलीप नाहटा भारत के अकेले ऐसे ज्योतिषी बने , 


       जिनकी लोकसभा चुनाव की काफी हद तक                             भविष्यवाणियां सत्य साबित हुई 

          नाहटा को कई संस्थाएं करेंगी सम्मानित 

ब्यावर । देशभर में 2024 के लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन को 400 पार के सीटों के आंकड़ों को यदि छोड़ दे तो 16 अप्रैल 2024 को देशभर के कई न्यूज़ पेपरों में स्पष्ट तौर से लोकसभा चुनाव की भविष्यवाणी में नेताओं के संदर्भ में एवं एनडीए गठबंधन की पार्टियों के संदर्भ में देश- विदेश की अनेकों भविष्यवाणीयां प्रकाशित हुई थी एवं इन भविष्यवाणियों में लिखी गई अब तक लगभग 65 से लेकर 70 फीसदी भविष्यवाणीयां सत्य साबित हो चुकी है । जिसे केवल राजस्थान में ब्यावर जिले के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा को छोड़कर भारत के बड़े से बड़े एक भी एस्ट्रोलॉजर एवं भविष्यवक्ता भी नहीं लिख पाएं है , इस कारण भारत की कई संस्थाएं लोकसभा चुनाव की लगभग 70 फीसदी भविष्यवाणीयां सत्य साबित होने पर नाहटा को सम्मानित करने जा रही है । नाहटा ने इन सभी भविष्यवाणियों की कैलकुलेशन अपने स्वयं के ही द्वारा बनाई गई विश्व की एकमात्र गुरु हस्ती मैग्नेटिक साइंटिफिक भविष्यवाणी लैब , पार्ट नंबर -- वन  के द्वारा मिले आंकड़ों के आधार पर लिखी थी और इस भविष्यवाणी की लैब में लगे चुंबकीय ग्रेविटेशन फील्ड से मिले आंकड़ों ने भविष्यवाणी करने वाली इस गुरु हस्ती मैग्नेटिक साइंटिफिक भविष्यवाणी लैब , पार्ट नंबर -- वन का पूरे देशभर में डंका बजा कर रख दिया है । जहां एक तरफ इस लोकसभा चुनाव में भारत का कोई भी ज्योतिषी , भविष्यवक्ता , महात्मा ,  एग्जिट पोल एवं सट्टा बाजार इतनी सारी भविष्यवाणीयां लिखने में असमर्थ रहें है , वहीं दूसरी तरफ इस गुरु हस्ती मैग्नेटिक साइंटिफिक भविष्यवाणी लैब , पार्ट नंबर -- वन ने लगभग 70 फीसदी भविष्यवाणीयां सही लिख करके भारतीय ऋषि मुनियों का देशभर में न केवल सम्मान एवं गौरव बढ़ाया है , अपितु पूरे भारतीय ज्योतिष जगत की साख बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है और राजस्थान में ब्यावर जिले का नाम भी देशभर में ज्योतिष के क्षेत्र में अमर कर दिया है , नाहटा का मानना है कि पूर्व के वर्षों में भी इस भविष्यवाणी की लैब ने कई बार  100 फीसदी तक की भी भविष्यवाणीयां सत्य निकाली है तो आने वाले समय में भी ये भविष्यवाणी की लैब फिर से राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर की राजनीतिक क्षेत्र की एवं तरह - तरह की बड़ी से बड़ी भविष्यवाणियों को काफी हद तक 70 फीसदी से लेकर 100 फीसदी तक भी सटीक भविष्यवाणी करने में समर्थ साबित हो सकती है । जो आने वाले समय में एक दिन पूरे विज्ञान जगत के लिए ये भविष्यवाणी की लैब नासा एवं इसरो के लिए भी एवं एग्जिट पोल के लिए भी एवं सट्टे बाजार के लिए भी एक बड़ी चुनौती बन जाएगी , इस भविष्यवाणी की लैब ने इस लोकसभा चुनाव में कई सटीक भविष्यवाणयां लिखी है , जैसे -- बाड़मेर से रविंद्र सिंह भाटी के हार जाने की भविष्यवाणी सत्य साबित होना , वैभव गहलोत के हार जाने की भविष्यवाणी सत्य साबित होना , दिल्ली में भाजपा की सभी की सभी सातों सीटें आने की भविष्यवाणी सत्य साबित होना , आम आदमी पार्टी को अधिकतम सात सीटों से अधिक सीटें नहीं मिलना यानी केवल मात्र तीन सीटों पर ही आम आदमी पार्टी की सीटें सिमट कर रह जाना , जिसे कोई मान नहीं रहा था , इसके अलावा भारत के 28 राज्य एवं 08 केंद्र शासित  प्रदेशों के लोकसभा सीटों के आंकलन भी दिए गए थे , जिसमें से बिहार , मध्य प्रदेश , कर्नाटक , गुजरात , आंध्र प्रदेश , उड़ीसा , केरल , तेलंगाना , असम , झारखंड , छत्तीसगढ़ , उत्तराखंड , हिमाचल प्रदेश , अरुणाचल प्रदेश , मेघालय , त्रिपुरा , मिजोरम , नागालैंड , सिक्किम , दिल्ली , लक्षद्वीप , पांडिचेरी , जम्मू कश्मीर के बारे में दिए गए एनडीए गठबंधन की सीटों के आंकड़े लगभग बिल्कुल सही साबित हुए हैं एवं इसके अलावा उत्तराखंड के जंगलों में आग लगने की भविष्यवाणी सत्य साबित होने एवं दुनिया के बड़े नेताओ में जैसे ईरान के राष्ट्रपति की मृत्यु होने एवं भारत में मई महीने में बंगाल में साइक्लोन तूफान आने जैसी भविष्यवाणी सत्य साबित हो चुकी है और अंत में इसी भविष्यवाणी में लिखा था कि मोदी का ये अंतिम कार्यकाल भी होंगा , जो अब लगता है की एनडीए गठबंधन की सरकार बनने के बाद भविष्य के आने वाले पाँच वर्षों के भीतर -- भीतर ये भविष्यवाणी के भी सत्य हो जाने की अभी से आहट सुनाई देने लगी है क्योंकि इस बार पूर्ण बहुमत में मोदी सरकार नहीं आई है और गठबंधन वाले लोग मोदी सरकार पर दबाव बनाये रखेंगे । जिस कारण मोदी भविष्य में अगले आने वाले पांच वर्षों का अपना कार्यकाल शायद पूरा नही भी कर पाएं ! इस लोकसभा चुनाव की भविष्यवाणी के एनडीए की सीटों के आंकड़ें पर अकेले नाहटा ही फैल नहीं हुए है , अपितु पूरे भारतभर के सभी ज्योतिषी एवं सभी एग्जिट पोल एवं सभी सट्टा बाजार एवं सभी बड़े - बड़े महात्मा भी फैल हो गए है , आप क्रिकेट में ही देख लीजिए - सचिन तेंदुलकर एवं विराट कोहली कभी भी क्रिकेट मेचो में लगातार चौकें एवं छक्के नहीं लगा पाते है एवं वें भी कही बार जीरो पर भी आउट होते देखें गए हैं , गौरतलब है कि राजस्थान में ब्यावर जिले के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की पिछले 12 वर्षों के दौरान लगभग 90 फीसदी भविष्यवाणीयां यानी लगभग 400 से अधिक भविष्यवाणीयां सत्य साबित हो चुकी है किंतु पिछले 12 वर्षों के दौरान लगभग 10 फीसदी भविष्यवाणीयां गलत भी हुई है , अंतिम कड़ी में नाहटा ने 2024 के लोकसभा चुनाव की लगभग 70 फ़ीसदी सत्य साबित हुई इन भविष्यवाणियों को अपने ईस्ट गुरु जैन आचार्य 1008 श्री हस्ती मल जी महाराज साहब के चरण कमलों में एवं निमाज गांव स्थित उनके समाधि स्थल पर समर्पित की है ।

Comments

Popular posts from this blog

नाहटा की चौंकाने वाली भविष्यवाणी

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे