इसरो - 300 से ज्यादा विदेशी उपग्रह लॉन्च करने का रिकॉर्ड


एजेंसी


श्रीहरिकोटा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने बुधवार को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से एडवांस्ड रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट कार्टोसैट-3 को सफलतापूर्वक प्रक्षेपित पृथ्वी की हाई रिजोल्यूशन इमेज किया। यह इसरो का साल का पांचवां मुहैया कराएगा कार्टोसैट-3: मिशन है। कार्टोसैट के साथ अमेरिका के कार्टोसैट-3 का वजन लगभग 1500 13 छोटे कमर्शियल उपग्रह भी अपनी किलोग्राम है। यह थर्ड जेनरेशन एडवांस्ड कक्षाओं में स्थापित हुए। यह लॉन्चिंग हाई रेजोल्यूशन वाले अर्थ इमेजिंग पीएसएलवी-सी47 रॉकेट से की गई। सैटेलाइटों में पहला है। एजेंसी 1988 से कार्टोसैट का उपयोग मौसम और असैन्य ही रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट लॉन्च कर रही जानकारी जुटाने में होगा। इसके साथ ही है। इन सैटेलाइट्स के जरिए इसरो को भारत ने 300 से ज्यादा विदेशी पृथ्वी की हाई-रिजोल्यूशन तस्वीरें सैटेलाइट लॉन्च करने का आंकड़ा पूरा मिलती हैं। कर लिया। ___ दो साल पहले लॉन्च हुआ था इसरो प्रमुख के सिवन ने सैटेलाइट कार्टोसैट-2: कार्टोसैट सीरीज की के सफल प्रक्षेपण के बाद कहा, 'मुझे सैटेलाइट्स प्रमुख तौर पर पृथ्वी की खुशी है कि पीएसएलवी सी-47 ने मैपिंग के लिए इस्तेमाल की जा रही हैं। कार्टोसैट-3 के साथ 13 सैटेलाइट्स को कार्टोसैट-3 इसी कड़ी का हिस्सा है। सफलतापूर्वक उनकी कक्षा में पहुंचाया। मोदी ने इसरो टीम को बधाई दी: अन्य नैनो सेटेलाइट के सफतापूर्वक कार्टोसैट-2 सीरीज में पहले लॉन्च किए कार्टोसैट-3 हाई-रिजोल्यूशन की असैन्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्टोसैट-3 और प्रक्षेपण इसरो टीम को बधाई। एडवांस्ड गए सैटेलाइट ने पड़ोसी देशों की तस्वीरें सैटेलाइट है। हमारे पास 6 मार्च तक 13 अन्य उपग्रहों के सफलतापूर्वक प्रक्षेपण कार्टोसैट-3 के माध्यम से हाई- खींची। इससे सेना और सरकार को मिशन कतार में हैं। इनमें 6 बड़े व्हीकल पर इसरो को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट रिजोल्यूशन तस्वीरें ली जा सकेंगी। इसरो लाइन ऑफ कंट्रोल के पार जाकर के मिशन हैं, जबकि 7 सैटेलाइट किया, 'पीएसएलवी-सी47 रॉकेट से ने एक बार फिर देश को गौरवान्वित टेररिस्ट लॉन्च पैड को तबाह करने में मिशन हैं।' स्वदेश निर्मित कार्टोसैट-3 और 13 किया है।' मदद मिली।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ