जोश, जुनून और जज्बे का उत्सव होगा “रन फॉर ह्यूमैनिटी” का चौथा संस्करण


कार्यालय संवाददाता


जयपुर


1 दिसंबर को वर्ल्ड एड्स डे के मौके पर फैलाएंगे स्वस्थ एवं फिट रहने का संदेश के साथ अवेयरनेस


आगामी 1 दिसंबर यानी कि वर्ल्ड एड्स डे जैसे खास मौके पर आयोजित होने जा रही मानवता की सबसे बड़ी दौड़  “रन फॉर ह्यूमैनिटी” का खास उद्देश्य लोगों के बीच स्वस्थ जीवन एवं हेल्दी लाइफ़स्टाइल का संदेश फैलाना है. अगर आज की बात करें तो आज किसी के पास वक्त नहीं है कि वह अपने स्वास्थ्य के बारे में ध्यान रख सके . फिट होने के चक्कर में वह ऑर्गेनिक डाइट फूड की ओर तो रुक कर रहे हैं पर दिल और दिमाग से में घुट रहे हैं यह कहना है रन फॉर ह्यूमैनिटी के आयोजक अप्लव सक्सेना का. जवाहर सर्किल स्थित ईटरनल हॉस्पिटल में बुधवार को आयोजित हुई प्रेस वार्ता में अवसर वेंचर की ओर से रन फॉर ह्यूमैनिटी के चौथे संस्करण के बारे में अप्लव ने मीडिया को जानकारी दी. उन्होंने यह भी बताया की कार्यक्रम का सबसे ख़ास आकर्षण होंगे देश के रक्षक एवं जवान. इवेंट हेड डॉ  भार्गवी ने बताया की इस कार्यक्रम में हर आयु वर्ग के लोग हिस्सा ले सकते है जिसके लिए कोई शुल्क नहीं है एंट्री सबके लिए फ्री है. एआरएल इंफ्राटेक से अंकित ने बताया की कार्यक्रम की शुरुवात प्रातः 05:30 बजे जवाहर सर्किल, जेएलएन मार्ग से होगी. 


रन फॉर ह्यूमैनिटी के प्रेसेंटर यूईएम के इलावा एआरएल इंफ्राटेक, जेकेजे एंड संस जेवेल्लेर्स, हेल्थ पार्टनर इटरनल हॉस्पिटल, स्मार्टफोन पार्टनर टेक्नो मोबाइल्स, सहयोगी पार्टनर सतनाम इलेक्ट्रिकल सोलूशन्स, अंकुर स्पेक्ट्रा, सोशल पार्टनर सक्षम संसथान, फोटोग्राफी पार्टनर राज डिजिटल स्टूडियो एवं अन्य सहयोगी रहेंगे।


कार्यक्रम के वेन्यू पार्टनर्स जेआईटी, गौरव टावर, आईएचएमसीएस, दीप पब्लिक स्कूल, कनोरिआ कॉलेज, विल्फ्रेड स्कूल, रामा कृष्णा पीजी कॉलेज एवं एपेक्स यूनिवर्सिटी रहेंगे।


यहाँ से रवाना होगी रन 
कार्यक्रम की शुरुवात जवाहर सर्किल जेएलएन मार्ग से होकर आगे फ्लाईओवर से मुड़ते हुए जवाहर सर्किल लगभग ५ किलोमीटर की यह दौड़ रहेगी जिसमें विजेताओं को पुरस्क़ृत किया जायेगा. सुरक्षा के लिहाज से एम्बुलैस का प्रबंध भी किया गया है |


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को