दमकलकर्मी ने पैर में चोट लगने के बाद भी इमारत में फंसे 11 लोगों को बचाया, स्वास्थ्य मंत्री ने रियल हीरों' कहा


नई दिल्ली। दिल्ली की अनाज मंडी स्थित फैक्ट्री में आग लगने के बाद, इमारत से लोगों को निकालने गए दमकलकर्मी ने 11 युवकों की जान बचाई। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दमकलकर्मी राजेश शुक्ला को 'असली हीरो' बताया और कहा कि पैर में चोट के बावजूद, उन्होंने अंत तक अपना काम किया। फैक्ट्री में रविवार तड़के भीषण आग लगी थी, जिसमें 44 लोगों की मौत हो गई और 15 जख्मी हो गए। रेस्क्यू के दौरान राजेश के पैर में चोट लग गई। उन्हें एनएलजेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। सत्येंद्र जैन ने हॉस्पिटल पहुंचकर उनसे मुलाकात की। दिल्ली फायर सर्विस (डीएफएस) ने कहा कि जिस इमारत में आग लगी उसके लिए फायर क्लीयरेंस नहीं ली गई थी। मरने वालों में ज्यादातर बिहार के रहने वाले हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए मुआवजे की घोषणा की है।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ