जम्मू-कश्मीर सुरक्षाबलों ने 10 साल पुराने आतंकी ठिकाने का पता लगाया, एके-47 सहित हथियार और विस्फोटक बरामद


कार्यालय संवाददाता


अल सुबह शुरु हुआ ऑपरेशन हथियारों की बरामदगी के साथ श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला में दोपहर को खत्म हुआ। सुरक्षाबलों ने शनिवार को एक बड़े आतंकी किसी बड़ी आतंकी ठिकाने को खोजकर नष्ट किया। उत्तरी कश्मीर में सोपोर के राफियाबाद इलाके में बने इस ठिकाने का इस्तेमाल आतंकी छिपने के लिए करते थे। सुरक्षाबलों ने यहां से 2 एके-47 राइफल राष्ट्रीय राइफल्स सेक्टर 7 के कमांडर ने और उसकी 2000 राउंड गोलियां, 3 घटनास्थल का दौरा करने के बाद, जब्त आरपीजी राउंड, 2 वायरलैस सेट और की गई सामग्री को जांच के लिए भेजने एक सैटेलाइट फोन बरामद किया। के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि बरामद पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, 5 हुए हथियारों और विस्फोटकों को देखकर आतंकियों के डालरी के घने जंगलों में साफ है कि आतंकी किसी बड़ी वारदात छिपे होने की सूचना पर सर्च ऑपरेशन को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थेशुरु किया गया। इसके बाद सुरक्षाबलों को पुलिस ने कहा कि आस-पास के इलाके उनके ठिकाने का पता चला। हालांकि में आतंकी मूवमेंट की संभावना देखते हुए सुरक्षाबलों के पहुंचने से पहले आतंकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। 32 राष्ट्रीय राइफल्स, यहां से भागने में कामयाब रहे। यह स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और ठिकाना करीब 10 साल पुराना हो सकता सीआरपीएफ की 92 बटालियन की है। आतंकी यहां हथियार और विस्फोटक संयुक्त टीम ने यह कार्रवाई की।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे