कांग्रेस सरकार का एक साल-राजस्थान हुआ बदहाल : डॉ. सतीश पूनियां


कार्यालय संवाददाता


जयपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने आज मंगलवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर हर मोर्चे पर असफल कांग्रेस की सरकार के खिलाफ "चार्जशीट' जारी की। इस चार्जशीट में सरकार के 52 सप्ताह के कायों की 52 विफलताओं को उजागर किया। इस अवसर पर पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि सरकार का एक साल मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री के मध्य प्रतिस्पर्धा में बीत गया। परिणामस्वरूप सरकार के एक साल के जश्न के कार्यक्रमों के दौरान उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट नदारद रहे। मुख्यमंत्री ने स्वयं ही स्वीकार किया कि हमने 503 में से 119 वादे ही पूरे किये है यानि मात्र 25 प्रतिशत ही काम कर पाये हैं, जो कि किसी भी सरकार की विफलता को बताने के लिए काफी है। डॉ. पूनियां ने कहा कि सरकार एक साल का जश्न मना रही है, लेकिन उसे अपनी नाकामी और असफलताओं के लिए आत्मचिंतन करना चाहिए। मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों के कार्यों को 10 में से 10 नम्बर दे रहे है। जबकि मुख्यमंत्री स्वयं ही प्रदेश के मुखिया के तौर पर फेल साबित __ हुए है। मुख्यमंत्री के पास जो महत्वपूर्ण गृह विभाग व विश्र विभाग है, उनमें ही सरकार सम्पूर्ण रूप से विफल रही है। राजस्थान आज देश के सबसे अधिक अपराधग्रस्त राज्यों में शीर्ष की ओर अग्रसर है। वहीं राजस्थान की बदहाल आर्थिक स्थिति की बानगीभर है कि आज राजस्थान में विकास के काम ठप्प पड़े है, ठेकेदारों का भुगतान नहीं हो रहा है, राज्य कर्मचारियों को महंगाई भश्रा तो दूर वेतन देने की व्यवस्था भी सरकार के पास नहीं है। मुख्यमंत्री अपने विभाग में ही पूर्ण रूप से फेल हो चुके है उसके बावजूद वे स्वयं ही विद्यार्थी और शिक्षक दोनों बनकर अपने मंत्रियों को नम्बर दे रहे है। डॉ. पूनियां ने कहा कि सरकार अपने एक साल का जश्न “किसान सम्मेलन" करके मना रही है। जबकि उसने पूरे एक साल में किसानों को वादा करके सिर्फ धोखा ही दिया है। साल भर पहले उनकी सरकार किसान कर्जमाफी के नाम पर सश्रा में आई थी, लेकिन ना तो किसानों का कर्जा माफ हुआ और ना ही उन्हें किसी प्रकार की मदद दी। आज किसान को खाद लेने के लिए लम्बी लाइनों में खड़ा होकर लाठियाँ खानी पड़ती है। फिर भी उन्हें समय पर खाद नहीं मिलती है। भाजपा सरकार के समय किसानों का 10 लाख रूपये तक का बीमा किया जाता था, लेकिन आज 25 लाख किसानों का बीमा कवर नहीं है। कोई भी कम्पनी बीमा करने को तैयार नहीं है। डॉ. पूनियां ने कहा कि प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भश्रा देने का वादा किया था, लेकिन उन्हें लाठियाँ खानी पड़ रही है, धरना देना पड़ रहा है, उनके रोजगार की सरकार को कोई चिंता नहीं है। उन्होंने अपने बेटे को तो रोजगार दिला दिया, लेकिन प्रदेश के 27 लाख युवा बेरोजगारों को बेरोजगारी भश्रा देने में वे पूर्ण रूप से असमर्थ है। डॉ. पूनियां ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत ने केवल भाजपा सरकार की योजनाओं का नाम बदलने का कार्य किया है और कुछ जनहित योजनाओं को खजाना खाली है का रोना रोकर बंद कर दिया। उनका विश्रीय प्रबंधन पूर्ण रूप से कुप्रबंधन है। केन्द्र की लाभकारी योजनाओं को वे जान-बूझकर प्रदेश में लागू नहीं कर रहे है, जिसके कारण प्रदेशवासियों को उन योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। प्रदेश में स्टेट हाईवे पर टोल लगाकर, बिजली की दरों में फ्यूल चार्ज बढ़ाकर, पेट्रोल-डीजल पर अतिरिक्त सेस लगाकर उन्होंने जनता की जेब पर अतिरिक्त बोझ लाद दिया है। डॉ. पूनियां ने कहा कि प्रदेश में पिछले 1 वर्ष में 1 लाख 76 हजार मुकदमें दर्ज हुए है। बलात्कार, चोरी, डकैती, लूटपाट, हत्या सहित सभी तरह के अपराध बढ़ते जा रहे है। महिला उत्पीड़न के 5 हजार से अधिक मामले दर्ज हो चुके है। महिला अपराध के प्रति सरकार की उदासीनता साफ दिखती है। मौजूदा शासन में अपराध इतना बढ़ चुका है कि पुलिस हिरासत में अपराधी बंदूक की नोक पर अपने साथियों को छुड़ाकर ले जाते है और कई माह बीत जाने के पश्चात् भी पुलिस कुछ नहीं कर पाती।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी