'यूथ अगेंस्ट रेप


कार्यालय संवाददाता 


जयपुर। बदलाव आने का इंतजार करने से बेहतर खुद वह बदलाव बनना जो की आज के समय में जरूरी हो गया है। हाल ही में देश के अलग अलग हिस्सो में हुवे बलात्कार ओर हत्या जैसे गंभीर मामलों ने देश को झकझोर कर रख दिया है। बलात्कार पीड़िताओं द्वारा कहे गए शब्द ' मै जीना चाहती से सुनने को ना मिले, इसके लिए देश भर से युवा प्रयास कर रहे है। ऐसी ही एक मुहिम, 23 वर्षीय युवक 'पियूष मोंगा' ने 25 मई 2019 को 'यूथ अगेंस्ट रेप' के नाम से शुरू की हैं। इस मुहिम में उनका साथ 15 - 25 वर्ष के युवा दे रहे है, देश भर में बलात्कार ओर महिला उत्पीड़न के खिलाफ लोगो को जागरूक करने के लिए यह टीम प्रयासरत है। मानवता को शर्मशार कर देने वाले ऐसे हादसों को रोकने व लोगों को इनके खिलाफ जागरूक करने के लिए इस टीम के सदस्यों ओर इनके सहयोगियो द्वारा जयपुर शहर में चोमु पुलिया से कलेक्ट्रेट सर्किल तक शांतिमार्च निकाला गया, जिसमें सभी लोगो के मुंह पर काली पट्टी बंधी थी, जो की मानवता के अंत का संदेश देती है। इस टीम ने अपनी कुछ खास मांगो को लेकर कलेक्टर ऑफिस में ज्ञापन सौंपा , जिसमें नए फोरेंसिक लैब के निर्माण, राष्ट्रपति दया याचिका का अंत, बलात्कार के मामलों की जल्द सुनवाई जैसी मुख्य मांगे है।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ