आज़ादी के 71 साल बाद भी जालोर जिले से राज्य व देश की राजधानी दिल्ली जयपुर के लिए एक भी सीधी रेल की सुविधा नही 


जालोर। आज़ादी के 71 साल बाद भी जालोर जिला राज्य की राजधानी जयपुर तक सीधी रेल से नही जुड़ पाया है।वर्तमान में जालोर, भीनमाल ,मोदरान ,रानीवाड़ा आदि शहरों से जयपुर व दिल्ली के लिए सीधी कई बसों की सुविधा है। लेकिन रेलमार्ग से जयपुर व दिल्ली आने जाने के लिए जोधपुर जाकर ट्रैन पकडनी पड़ती है जिससे यात्रियों को बहुत भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। वर्तमान में जालोर जिला ग्रेनाइट नगरी, भीनमाल मिनी मुम्बई के नाम से विख्यात सुंधा माता मंदिर, क्षेमकरी माताजी मंदिर, 72 जैन जिनालय ,  मोदरान स्टेशन के पास विश्व प्रसिद्ध माँ आशापुरी माताजी का मंदिर, एच् पी सी एल सर्विस पॉइंट धानसा ,68 जैन जिनालय मोदरान में मंदिर  का निमार्ण हो रहा है, जिससे लाखो लोग विश्व भर से अपनी कुलदेवी के दर्शन को आते जाते रहते हैं  व लाखो प्रवासी भाई जयपुर व दिल्ली आदि शहरों में आता जाना रहता है विद्याथियो व व्यापारियों  को हमेशा जयपुर ,दिल्ली ,डेगाना, मेड़ता, अजमेर, आदि शहरों में आना जाना रहता है लेकिन ब्रॉडगेज के बारह साल बाद भी समदड़ी भीलड़ी रेलमार्ग से जयपुर व दिल्ली के लिए सीधी ट्रैन नही होने से यात्रियों को बहुत भारी परेशानी उठानी पड़ रही है।

वर्तमान में जोधपुर से भीलड़ी मार्ग पर एक भी नियमित ट्रैन दक्षिण भारत के लिए नही होने के कारण बहुत भारी परेशानी हो रही है।

ब्रॉडगेज के बारह साल बाद भी जोधपुर से भीलड़ी के लिए दोपहर में एक भी लोकल डेमू ट्रैन की सुविधा नही होने के कारण समदड़ी, मोकलसर, जालोर, मारवाड़ बागरा, मोदरान, भीनमाल, रानीवाड़ा, धनेरा तक यात्रा करने वाले दैनिक यात्रियों व व्यापारियों को बहुत भारी परेशानी हो रही है लेकिन रेलवे विभाग की तरफ से इस गंभीर समस्या के लिए कोई भी प्रयास नही किया जा रहा है जिससे मारवाड़ भीनमाल ,मोदरान, जालोर,  मोकलसर, आदि शहरों से सुबह व शाम  को  आने जाने वाली डेमू ट्रैन  74841/42 भीलड़ी जोधपुर में बहुत भारी भीड़ रहती हैं  और प्रत्येक महीने के शुक्ल पक्ष में हमेशा बहुत भारी भीड़ रहती है पाटण, बनासकांठा ,भीलड़ी के लोग हमेशा वर्षभर रामदेवरा व सुंधा माताजी मंदिर, माँ आशापुरी माताजी मंदिर मोदरान ,अपनी कुलदेवी के दर्शन को बहुत भारी संख्या में आवागमन करते हैं। जिससे ट्रैन में जगह नही होने से यात्रीयो को लटककर यात्रा करने को मजबूर हो रहे हैं। लेकिन रेलवे बोर्ड के अधिकारीगण ,सांसद महोदय भी इस समस्या के समाधान के लिए अभी तक कोई भी प्रसास नही कर रहे हैं।

समदड़ी भीलड़ी रेलखंड के  समस्त यात्री संघर्ष समिति इस गंभीर समस्या को लेकर मंडल प्रबंधक जोधपुर व जनरल मैनेजर जयपुर को  कई बार पत्र लिखकर अवगत कराया लेकिन सिर्फ आश्वासन मिलता है लेकिन अभी तक कोई भी सुधार नही होने से यात्रियों को भारी परेशानी हो रही है।

 

इनका कहना

 

अगर 22484/83 ग़ांधीधाम जोधपुर ट्रैन का विस्तार जयपुर तक ,व 22421/22 सालासर एक्सप्रेस का विस्तार भुज/अहमदाबाद तक विस्तार कर दिया जाए तोह यात्रियों व रेलवे को भी फायदा होगा और नए रेक की भी जरूरत नही होगी और रेलवे की कमाई में जरूर फायदा होगा। अभी दोनों ट्रेने जोधपुर यार्ड में बारह से पंद्रह घंटे तक खड़ी रहती है। अगर रेलवे प्रशासन चाहे तो इन ट्रेनों का विस्तार करके यात्री सुविधाओं में इज़ाफ़ा कर सकते हैं। - हरि सिंह राठोड मोदरान आर टी आई कार्यकर्त्ता


 

जोधपुर से दोपहर में तीन बजे धनेरा तक डेमू ट्रैन रेलवे विभाग को चलानी चाहिए। जिससे समदड़ी भीलड़ी रेलमार्ग के छोटे स्टेशनों से यात्रा करने वाले आम नागरिकों व व्यापारियों व आम जनता को जालोर, भीनमाल, मोदरान, रानीवाड़ा, धनेरा आदि शहरों मे आने जाने में सुविधा मिल सकेगी। - कुशलराज जैन  व्यापारी भीनमाल

 


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी