अजमेर जिले के नसीराबाद में जैन समाज के समाधी स्थल परिसर पर तोड़फोड़ का मामला


प्रशासन द्वारा प्रतिमाओ को तोड़ने पर जैन समाज में भारी रोष, अधिकारी अरविन्द कुमार को तुरंत बर्खास्त करने की मांग
समाज की चेतावनी – कार्यवाही नही हुई तो ईट का जवाब पत्थर से देना जानता है समाज, अहिंसा के पुजारी है कायर नही है


जयपुर. अजमेर जिले के नसीराबाद स्थित आचार्य ज्ञान सागर महाराज के समाधी स्थल परिसर में अनाधिक्रत रूप से प्रवेश करने एवं जैन प्रतिमाओ को तोड़ने को लेकर विवाद गहराता जा रहा है, इस घटना को लेकर सकल दिगम्बर जैन समाज ने भारी रोष व्यक्त किया है और राज्य सरकार सेर मांग की है की सम्बन्धित अधिकारी अरविन्द कुमार नेमा पर तत्काल कार्यवाही करने अन्यथा जैन समाज को मजबूरन सड़कों पर उतरकर अपना रोष व्यक्त करना पड़ेगा.
अखिल भारतीय दिगम्बर जैन युवा एकता संघ राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक जैन बिट्टू ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा की गत 7 जनवरी को मुख्य छावनी अधिशासी अधिकारी अरविन्द कुमार नेमा अनाधिकृतरूप से समाधी स्थल पर दोपहर करीबन 1.15 बजे पुरे लवाजमे के साथ घुसे और परिसर में रखी प्राचीन प्रतिमाओ को क्षतिग्रस्त कर गए. 
जैन ने कहा की मुख्य छावनी अधिशासी अधिकारी अरविन्द कुमार नेमा शक्ति के मद में चूर होकर समाधी स्थल परिसर में कार्यवाही करते है यह कार्यवाही जैन समाज व जैन मुनियों के प्रति ग्रसित अपनी निजी धार्मिक कुंठा को बताती है. जिसके चलते मुख्य छावनी अधिशासी अधिकारी अरविन्द कुमार नेमा बिना किसी पूर्व सुचना के 7 जनवरी को जबर्दस्ती घुसकर तोड़ – फोड़ कर देते है और समाज की धार्मिक भावनाओ के साथ खिलवाड़ करते है. ऐसे व्यक्ति प्रशासन मंर बैठकर किसी के साथ न्याय नही कर सकते है जो व्यक्तिगत धार्मिक कुंठा को पाले बैठते है. अखिल भारतीय दिगम्बर जैन युवा एकता संघ ही नही बल्कि सकल दिगम्बर जैन समाज राजस्थान और भारतवर्ष इस निर्मम कार्यवाही की घोर निंदा करता है और सरकार से तत्काल कार्यवाही की मांग करते हुए अरविन्द कुमार नेमा को बर्खास्त करने की मांग करता है. 
अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा की अगर राज्य सरकार जैन समाज के साथ न्याय नही करती है तो समाज ईट का जवाब पत्थर से देना जानता है, जैन समाज अहिंसा का पुजारी जरुर है लेकिन कायर नही है. जैन समाज भगवान महावीर स्वामी के आदर्शों का बखूबी पालन करता है और जियो और जीने दो में विश्वास करता है, अगर कोई हमारी धार्मिक भावनाओ को ठेस पहुंचाएगा तो जैन समाज चुप नही बेठेगा.


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को