जेएनयू के गेट पर छात्रों का जमावड़ा, 700 पुलिसकर्मी तैनात, शाह ने एलजी बैजल से कहा... यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधियों से चर्चा करें


जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस ने सोमवार को स्वतः संज्ञान लेते हुए एफआईआर दर्ज की। पुलिस की एक टीम कैंपस पहुंची है। इस दौरान सैकड़ों छात्र उत्तरी गेट पर जमा हो गए। सुरक्षा के मद्देनजर यहां 700 पुलिसकर्मी तैनात हैं। उधर, प्रदर्शनकारी छात्रों पर नकाबपोशों के हमले के विरोध में मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया. कोलकाता की जाधवपुर यूनिवर्सिटी और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन हुए। वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से कहा है कि वे जेएनयू के प्रतिनिधियों को बुलाकर चर्चा करें। जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान रविवार रात हिंसा हुई थी। नकाबपोशों ने छात्र-शिक्षकों को डंडे और लोहे की रॉड से बुरी तरह पीटा। वे ढाई घंटे तक कैंपस में कोहराम मचाते रहे। हमले में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई घायल हो गए। आइशी ने एबीवीपी पर हमले का आरोप लगाया और कहा कि नकाबपोश गंडों ने मझे बुरी तरह पीटा। करीब 35 लोग जख्मी हो गएअब तक 23 घायलों को एम्स से छुट्टी मिल चुकी है। अमित शाह ने दिल्ली पलिस को जांच के आदेश दिए: गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पाठक से बात की। उन्होंने कहा कि इस हिंसा की वरिष्ठ अधिकारियों से जांच कराई जाए और जल्द रिपोर्ट पेश कि जाए। जो भी जरूरी कदम हो वो उठाए जाएं। मानव संसाधन मंत्रालय ने भी तत्काल जेएनयू प्रशासन से रिपोर्ट मांगी |


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को