मोदी-गोडसे एक ही विचारधारा के, पीएम में यह कहने की हिम्मत ही नहीं कि उनका नाथूराम में विश्वास है: राहुल गांधी


एजेंसी


तिरुवनंतपुरम. कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विचारधारा एक ही है। इसमें कोई अंतर नहीं है। मोदी में हिम्मत नहीं है कि वे कह सकें कि उनका गोडसे में यकीन है। सभा से पहले राहुल ने वायनाड के कलपेटा में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ 2 किमी का 'संविधान बचाओ' मार्च भी निकाला। केरल के कलपेटा में एक रैली में उन्होंने कहा, 'देश के नागरिकों को भारतीयता साबित करने के लिए मजबूर किया जा रहा है। मोदी यह फैसला लेने वाले कौन होते हैं कि मैं एक फैसल भारतीय हूं? उन्हें यह लाइसेंस किसने दिया कि वह निर्णय लें कि कौन भारतीय है और कौन नहीं? मैं जानता हूं कि मैं भारतीय हूं और यह मुझे किसी को साबित करने की जरूरत नहीं है।" 'मोदी को सिर्फ खुद से प्यार':


'मोदी को सिर्फ खुद से प्यार': राहुल के मुताबिक, 'नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी को मारा था क्योंकि वह किसी में भी विश्वास नहीं करता था। वह किसी से प्यार नहीं करता था। उसे किसी की परवाह नहीं थी। इसी तरह हमारे प्रधानमंत्री भी हैं। वे सिर्फ खुद से प्यार और खुद पर ही भरोसा करते हैं।' उन्होंने कहा, 'जब भी आप नरेंद्र मोदी से बेरोजगारी और नौकरियों के बारे में पूछते हैं तो वे आपका ध्यान भटकाते हैं। एनआरसी, सीएए और असम को जलाने से नौकरियां नहीं मिलेंगी। न ही कश्मीर में अस्थिरता कम होगी।'


राहुल गांधी ने इससे पहले बुधवार को स्टैंडअप कॉमेडियन कुणाल कामरा के समर्थन में आ गए थे। उन्होंने ट्वीट किया था, "कुणाल कामरा पर चार एयरलाइंस के जरिए पाबंदी लगाना, एक डरपोक आदमी का काम है, जो सरकार में अपनी पैठ का इस्तेमाल करके एक आलोचक को चुप कराना चाहता है। जो लोग अपने न्यूज कैमरे को 24 घंटे प्रचार के लिए इस्तेमाल करते हैं, जब उनकी तरफ कैमरे का रुख किया जाता है तो उन्हें भी रीढ़ जैसी मजबूती दिखानी चाहिए।' कुणाल पर पाबंदी लगाना एक डरपोक आदमी का काम है |


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी