पहचान को मोहताज पाक जेल में 10 साल से बंद जय सिंह


जयपुर 23 जनवरी  । करीब 10 वर्षों से पाकिस्तान की मलीर जेल में बंद राजस्थान निवासी जय सिंह आज अपनी ही पहचान को मोहताज हो गया है। 
     
 अवैध तरीके से पाकिस्तान में प्रवेश करने की अपनी सजा 1 जनवरी 2018 को पूर्ण कर चुका जय सिंह राष्ट्रीयता व पते के अभाव में अनचाही सजा भुगत रहा है। मानसिक व शारीरिक स्थिति दयनीय होने के कारण वह अपनी पूर्ण पहचान नही  बता पा रहा है।
   
    प्रारम्भिक जानकारी के अनुसार श्री जय सिंह की उम्र लगभग 35 वर्ष है। बाएं कंधे पर तिल व दाएं गाल पर चोट का निशान है। कद 5 फुट 5 इंच तथा आंखों एवं बालों का रंग काला है। दी गई जानकारी के अनुसार जयसिंह का परिवार पहले उदयपुर जिले में रहता था औऱ उसके बाद अब बड़ा कोटडा मस्जिद के पास अजमेर में रहने लगा है।
    जय सिंह का पिता का नाम स्वर्गीय मांगीलाल विक्रम सीमेंट फैक्ट्री में मजदूर बताया गया है। मां का नाम श्रीमती रुक्मण व पत्नी का नाम श्रीमती हेमलता है जो मंदसौर, मध्य प्रदेश की रहने वाली है। पुत्री का नाम सुनीता (5), पुत्र का नाम राजू (7), भाई का नाम जीवन बताया गया है।   दो बहने निर्मला एवं ममता हैं। 


इस व्यक्ति के बारे में कोई भी सूचना अविलंब महानिदेशक पुलिस जयपुर , *दूरभाष नंबर 0141 2740 832 अथवा ईमेल ssbraj@gmail.com पर दी जा सकती है। 


राष्ट्रीयता की पहचान के बाद ही हो सकेगी प्रत्यर्पण की कार्रवाई
पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय बंदी की राष्ट्रीयता सत्यापन के बाद ही गृह मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा पाकिस्तान से प्रत्यर्पण हेतु कार्रवाई की जा सकेगी। 


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,