रामगढ़ शेखावाटी में 'वेदारण्य हेरिटेज एंड हीलिंग फेस्टिवल' का होगा आयोजन पुगवला आग्न के साथ


कार्यालय संवाददाता


जयपुर। राजस्थान सरकार के पर्यटन, कला एवं संस्कृति मंत्रालय तथा श्रुति फाउंडेशन द्वारा मिलकर दिसंबर 2016 में वेदारण्य हेरिटेज एंड हीलिंग फेस्टिवल (वीएचएएच) की शुरूआत की गई थी। यह फेस्टिवल रामगढ़ शेखावाटी में 17 से 19 जनवरी को आयोजित किया जाएगा। यह फेस्टिवल के इस चौथे वार्षिक संस्करण में उत्तरी आयरलैंड की आर्ट्स काउंसिल का सहयोग भी प्राप्त हुआ है। वीएचएएच फेस्टिवल की संयोजक, श्रुति पोद्दार ने आज जयपुर में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी।


सुश्री पोदार ने आगे जानकारी दी कि फेस्टिवल में भारत व अन्य देशों के 50 नामी कलाकार, विचारक, डॉक्टर, डिजाइनर, उद्यमी, सरकार एवं संस्थाओं प्रमुख तथा सैकड़ों वैश्विक एवं स्थानीय प्रतिभागी शामिल होकर सेलीब्रेट करेंगे और सिखेंगे। इस फेस्टिवल के दौरान इस शहर की खास विशिष्टता को भी सेलीब्रेट किया जाएगा। उन्होंने आगे बताया कि हेरिटेज इंडिया साइक्लोथोन का दूसरा संस्करण और 2 फरवरी को रामगढ़ में आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर अतिरिक्त निदेशक पर्यटन, डॉ. मनीषा अरोड़ा; फेस्टिवल आयोजन समिति के सदस्य, श्री सुनील गुप्ता और संयुक्त निदेशक पर्यटन, श्री आनंद त्रिपाठी भी उपस्थित थे। इसमें शामिल होने के लिए जिन


इसमें शामिल होने के लिए जिन कलाकारों की ओर से पुष्टि की जा चुकी है, हैं - पद्मश्री गीता चंद्रन, प्रसिद्ध कलाकार पुगवला आग्न के साथ मधुप मुद्गल, पुंगचोलम - अग्नि के साथ शानदार कलाबाजियां, मांगणियार एवं कालबेलिया नर्तक, प्रसिद्ध 'कबीर कैफे', प्रसिद्ध राजस्थानी इतिहासकार डॉ. रीमा हूजा, इन्डिजिनस नॉलेज सिस्टम के लिए विश्व प्रसिद्ध क्लॉड अल्वारिस, उत्तरी आयरलैंड के जेसन ओरोकें, आदि। इनके अलावा डॉ. रीमा हूजा, एम्बेसेडर वीणा सीकरी जैसे वक्ता, विभिन्न सरकारी अधिकारी, विश्व प्रसिद्ध हीलर, मेंटोर, भारतीय मेडिसन एक्सपर्ट, क्राफ्ट एक्सपर्ट एवं कई शिक्षाविद भी इसमें शामिल हो रहे हैं। फेस्टिवल के तहत क्रिएटिव लर्निंग, दुर्लभ हीलिंग तकनीकों, वैदिक चैटिंग, आयुर्वेदिक क्रीम बनाने, एनर्जी हीलिंग, योगा, रग्स बुनाई, अनूठी कुजीन बनाने जैसे विभिन्न विषयों पर वर्कशॉप आयोजित की जाएगी।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को