शिक्षामित्र मिशन 2020 का सेमिनार रविवार को होटल ग्रैंड सफारी में संपन्न


जयपुर- शिक्षा के क्षेत्र में भारत को पूरे विश्व में अग्रणी बनाने के लिए शिक्षामित्र मिशन 2020 का एक सेमिनार रविवार 5 जनवरी 2020 को होटल ग्रैंड सफारी में संपन्न हुआ।
शिक्षामित्र के डाईरेक्टर कमल  शर्मा ने बताया कि आज देश में सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है अस्सी नब्बे परसेंट से ज्यादा अंक आने के बाद भी बहुत से प्रतिभावान छात्रों को अपना मनचाहा रोजगार या नौकरी उपलब्ध नहीं हो पाई क्योंकि उन्हें पता ही नहीं होता है कि उन्हें किस फील्ड में जाना है। केवल डिग्रियां व परीक्षा देते रहते हैं संख्या समान के लिए रोजगार के अवसर प्रदान कर रही है जो व्यक्ति अपना उज्जवल भविष्य बनाना चाहता है वह संख्या के लाभ कदम- से- कदम मिलकर चले इससे केवल कल का भविष्य सुधर जाएगा बल्कि देश को भी एक नई दिशा और ऊर्जा देगा।
शिक्षामित्र के निर्माण के उद्देश्य-1 वर्तमान में चल रही है एजुकेशन सिस्टम के कारण पेरेंट्स और बच्चों को जिन समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है उनका समाधान करना है।2-स्कूल सिलेक्शन का चयन पेरेंट्स कैसे करें बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके और बच्चे अपने आपको अपने परिवार को समय भी दे सके।3-अभिभावकों के सामने सब्जेक्ट चयन एक बड़ी समस्या है सब्जेक्ट चयन में अभिभावक और बच्चे दोनों कंफ्यूज रहते हैं कि बच्चा अपना बेस्ट किस फील्ड में दे सकता है।4-समाज में शिक्षा का प्रचार व प्रसार करते ऐसे लोग जो आपकी आर्थिक रूप से सक्षम ना होने वह अशिक्षित रहने के कारण समाज की मुख्यधारा से अब तक नहीं जुड़ पाए हैं उन्हें शिक्षित होने की प्रेरणा देकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ना वह संस्था समाज में नारी शिक्षा का प्रचार- प्रसार करना और जो बच्चियां पैसों के अभाव के कारण अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाती है बच्चियों को फ्री एज्युकेशन दिलवाना आदि कई सामाजिक कार्य शिक्षामित्र के द्वारा किए जाएंगे।
शिक्षामित्र की स्थापना 2019 हुई, यह संस्था राष्ट्रीय स्तर पर एक ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवा रही है। जहां पर यह आम भारतीय अपने शैक्षणिक आर्थिक और सामाजिक स्तर में उन्नति करते हुए 21वीं सदी के विकसित भारत में अपनी पहचान बना सके। वर्तमान में शिक्षा मित्र संस्थान अपने समर्पित मेंबर्स के साथ भारत के सभी राज्यों में सक्रिय हैं और लोगों को एजुकेशन स्किल्स और स्वरोजगार उपलब्ध करवाकर 21वीं सदी के लिए विकसित भारत के निर्माण में अपना सहयोग दे रही है।
शिक्षा मित्र के फाउंडर मैम्बर्स श्री गुरुपाल सिंह, श्री हनुमान, श्रीमती अनुराधा, डॉ ऋतुराज, श्री शील कुमार


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ