अलवर : नक्सली हमले में शहीद जवान को १६ और 20 साल के बेटों ने मुखाग्नि दी


 कार्यालय संवाददाता


अलवर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में घायल हुए जवान अजीत सिंह यादव मंगलवार को शहीद हो गए। बुधवार को उनका पैतक गांव गंडाला में अंतिम संस्कार किया गया। 10 फरवरी को नक्सलियों और सीआरपीएफ कोबरा 204 बटालियन के जवानों के बीच मुठभेड़ हो गई थी। इस दौरान सीने में गोली लगने के काण अजीत घायल हो गए थे।


दोनों बेटों ने दी मुखाग्निः मदीना बटा ने दी मुखाग्निः शहीद अजीत के अंतिम संस्कार के दौरान उनके दोनों बेटों ने उन्हें मुखाग्नि दी। 20 वर्षीय आशीष यादव और 16 वर्षीय अभिषेक ने नम आंखों से पिता को विदाई दी। इस दौरान अजीत के बड़े भाई जोगिंदर सिंह और संदीप यादव ने बच्चों का सहयोग किया। बुधवार सुबह जैसे ही शहीद की पार्थिव देह गांव पहुंची, पूरा गांव अजीत के नाम से गूंज उठा। सभी ने एक स्वर में शहीद को याद किया। पूरे सैन्य सम्मान के साथ अजीत को अंतिम विदाई दी गई। वहीं विधायक बलजीत यादव, कांग्रेस नेता आरसी यादव, भाजपा नेता मोहित यादव, सुरेश यादव, सीआरपीएफ आईजी अभयवीर सिंह चौहान अंतिम यात्रा में मौजूद रहे। युवाओं द्वारा उनके पार्थिव देह के आगे बाइक रैली निकाली गईपार्थिव देह पर रास्ते पर ग्रामीणों ने फल बरसाएवहीं वाहन के पीछे सैकड़ों की तादाद में युवा ग्रामीण सहित अनेक लोग चल रहे थे।


शहीद हवलदार अजीत सिंह 1994 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए । शहीद अजीत सिंह के दो बेटे । शहीद होने की खबर से गांव में शोक की लहर दौड़ गई।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी