गहलोत का बयान तथ्यों से परे, झूठ बोलकर प्रदेश की जनता में फैला रहे है भ्रम - डाॅ. सतीश पूनियां


सतीश पूनियां ने गहलोत द्वारा बजट पर दिए गये बयान पर किया पलटवार।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने आज कोटा में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल हुए और युवाओं को संबोधित किया। इसके बाद संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बजट पर दिये गये बयान पर तंज कसते हुए कहा कहा कि वह जनता में भ्रम फैला रहें है विकासोन्मुख बजट की गलत तथ्यों के आधार पर आलोचना कर रहे हैं। गहलोत जी ने युवा बेरोजगारी एवं प्रदेश को केंद्र से कम पैसा मिलना और रक्षा बजट को लेकर बात कही वह तथ्यों से परे झूठ बोलकर प्रदेश की जनता में भ्रम फैलाने का काम कर रहें है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि भाजपा के राज में सरकारी उपक्रमों को बेचा जा रहा है। एयर इंडिया, आईडीबीआई बैंक जैसे संस्थानों की हालत कांग्रेस सरकार के कार्यों के कारण खराब है और एलआईसी को केंद्र सरकार ने बेचने की योजना नहीं बनाई है, इसके बारे में वे गलत तथ्य पेश कर रहे हैं। एलआईसी को शेयर स्टॉक में लिस्ट किया गया है, बेचा नहीं गया। 
 भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि इस बजट में रक्षा पर छह गुना अधिक धन खर्च किया जा रहा है। इस बार 5.83 करोड़ बजट बढ़ाया गया है उससे हम चीन का मुकाबला करने के लिए तैयार है। इस बजट में खासकर सड़कों का निर्माण होगा। बजट में100करोड इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने और चीन के समान सैन्य शक्ति करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान का रेवेन्यू 10362 करोड रुपए जो उन्हें कम मिला है इसकी वास्तविकता यह है कि राजस्थान में उद्योग, धंधे और व्यापार पूरी तरह से ठप हो गए हैं। मुख्यमंत्री गहलोत सरकार केंद्र की कई योजनाओं को सुचारू रूप से लागू नहीं कर पाई, उसका सबसे बड़ा उदाहरण है, आयुष्मान योजना। अभी तक भी लोगों को इसका लाभ मिला नहीं है। 5 लाख  तक का इलाज इसमें लोगों को मिलेगा, जिसमें जितने भी  अस्पताल हैं, उनमें इलाज होना शामिल है। स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने स्वीकार किया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में जो लक्ष्य है उसे वह हासिल नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि 85 हजार करोड़ के बजट से अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग का उत्थान किया जाएगा आदिवासियों के लिए 53000 करोड का बजट दिया गया है सरकार कटिबद्ध है कि किसानों की आय दोगुनी की जाए  शो ऑनलाइन कोर्स विद्यार्थियों के लिए शुरू किए जाएंगे।
 डाॅ. सतीश पूनिया ने कहा कि यहां अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व कार्यकर्ता सम्मेलन में आया था राष्ट्रवाद के प्रति नौजवानों में जिस प्रकार का अनुराग बड़ा है समर्थन बड़ा है उसी दृष्टि से विद्यार्थी परिषद का काम और चुनौतियां दोनों बड़ी है विद्या विद्यार्थी परिषद अब केवल कैंपस में चुनाव लड़ने तक सीमित नहीं है समाज की मुख्यधारा में समाज के बदलाव को लेकर व्यापक रूप से कार्य कर रही है मैं राजस्थान के 1 बड़े राजनीतिक संगठन का अध्यक्ष हूं इस नाते जो तात्कालिक घटनाएं होती है उन सब के बारे में आप लोगों के माध्यम से अमित शाह जी को बताना आवश्यक समझता हूं खासकर विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का कल और मोदी सरकार दो इसका बजट आया सब लोगों ने इस बजट की अलग-अलग किस्म से व्याख्या की होगी मेरी नजर में केवल राजनीतिक दल के अध्यक्ष के नाते नहीं वरन निर पक्ष ने व्यक्ति के नाते उसका विश्लेषण किया मुझे लगता है कि जितनी चुनौतियां हैं उसके साथ-साथ यह संभावनाओं का बजट है दूरदर्शी है अच्छा है मोदी जी न्यू इंडिया की बात करते हैं उसी को रेखांकित इस बजट में किया गया है उदाहरण के तौर पर पानी यह एक बड़ी जरूरत होती है 3 पॉइंट 6 लाख करोड़ जल जीवन मिशन के लिए जिसमें हर घर तक नल यह एक महत्वपूर्ण परियोजना शुरू होगी शिक्षा के लिए अब तक का सर्वाधिक बजट 93 हजार करोड़ जिनसे रोजगार का सृजन होगा ऐसे अराजपत्रित कर्मचारियों की भर्ती के लिए रिक्रूटमेंट सेंटर इसके लिए 112 टेस्ट सेंटर यह प्रारंभ करने की बात की गई है 2025 तक 4 करोड और 2026 तक 8 करोड निजी क्षेत्र में रोजगार प्रदान करना इस बजट में महत्वपूर्ण है स्वरोजगार के लिए मोदी जी की मेक इन इंडिया से लेकर अनेक स्किल डेवलपमेंट की योजनाएं शुरू की गई स्टार्टअप कंपनियों को कर में छूट दी है 500000 तक कोई टैक्स नहीं लगेगा मध्यमवर्गीय के लिए बजट बहुत ही अच्छा है गरीबी और गरीबों का पोषण एक बहुत बड़ी बात होती है उसमें 35 करोड़ यह बड़ा प्रावधान किया गया है 10 करोड़ परिवारों को पोषण के लिए जागृत करने की मुहिम चलाएगी|


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ