जम्मू-कश्मीर : महबूबा की बेटी का दावा... नजरबंदी के दौरान मां से बात तक नहीं करने दी गई


एजेंसी


श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा ने नजरबंद किए गए नेताओं पर लगाई गई सख्त पाबंदियों पर सवाल उठाया है।


इल्तिजा ने शुक्रवार को ट्वीट कर दावा किया कि उन्हें अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद नजरबंद की गई उनकी मां से बात तक नहीं करने दी गई। अपनी बात पहुंचाने के लिए उन्हें चपाती में छिपाकर चिोठी भेजनी पड़ती थी। इस बीच, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को रिहा किया जाना चाहिए। 5 अगस्त, 2019 को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद करीब 1000 नेताओं को हिरासत में लिया गया था। इनमें से कई नेताओं को चरणबद्ध तरीके से रिहा किया जा चुका है। फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती समेत कई नेता अभी भी नजरबंद हैं। गुरुवार शाम को उमर और महबूबा पर पब्लिक सेफ्टी एक्ट (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया था।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ