परिवहन विभाग में घूसखोरी के मामले में मुख्य सूत्रधार तक पहुंचना जरूरी - हनुमान बेनीवाल


Jaipur / Nagaur -नागौर से रालोपा सांसद हनुमान बेनीवाल ने रविवार को जयपुर में भ्र्ष्टाचार निरोधक ब्यूरो द्वारा परिवहन महकमे में बंधी का खुलासा करते हुए जब्त की गई करोड़ो की राशि के मामले में बयान देते हुए कहा कि इतनी बड़ी वसूली बिना राजनैतिक संरक्षण के असम्भव है ! सांसद ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में पिछले कई सालों से परिवहन विभाग में संस्थागत भ्र्ष्टाचार व्याप्त है जिसमे निचले स्तर से लेकर ऊपर तक चौथ  वसूली की बंदी जाती है !
इन पर लगाये आरोप -
सांसद ने बस ऑपरेटर जसवंत यादव के सम्बंध में कहा कि यह व्यक्ति बंदी लेकर मंत्री तक देता है ,साथ ही महेश शर्मा नामक डीटीओ परिवहन निरीक्षकों व डीटीओ की ट्रांसफर पोस्टिंग के लिए पैसे लेता है,वही अर्जुन सिंह राठौड़ नामक एआरटीओ जिसके पास आरटीओ का कार्यभार है वो भी खुले आम चौथ वसूली करता है !
परिवहन मंत्री पर बड़े आरोप -
सांसद हनुमान बेनीवाल ने परिवहन मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि मंत्री ने जब परिवहन निरीक्षक को डीटीओ तथा आरटीओ की तबादला सूची निकाली तब एक-एक अधिकारी से 5  लाख से लेकर 10 लाख तक की वसूली की गई  थी,सांसद ने  शाहजापुर मुख्य चेकपोस्ट,रतनपुर चेक पोस्ट का का उदाहरण देते हुए कहा कि ईन चेक पोस्ट से  प्रतिमाह 50 से 60 लाख रुपये वही निम्बाहेड़ा ,धौलपुर, जालोर व सिरोही चेक पोस्ट से  प्रतिमाह 20 लाख रुपये अवैध रूप से वसूले जाते है और डेढ़ करोड़ रुपए से लेकर 2 करोड़ तक की प्रति महीना वसूली एक संस्थागत रूप से तय करके मंत्री स्तर तक जाती है  !
यह आरोप भी लगाए - सांसद ने कहा की  पिछले 15 महोनो में दलाल जसवंत यादव,डीटीओ महेश शर्मा व अर्जुन सिंह ने 30 करोड़ रुपये बंदी के तथा 50 करोड़ रुपये 3 ट्रांसफर लिस्ट में मंत्री तक पहुंचाए और इतना बड़ा भ्र्ष्टाचार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलेट की मंत्री को मिल रही सह के बिना असम्भव है !
सांसद ने स्टेट रेवन्यू इंटीलेजिन्स की एक रिपोर्ट के हवाले से कहा कि करोड़ो का परिवहन घोटाला विगत सरकार में भी हुआ था ! सांसद ने कहा विधानसभा के बाहर परिवहन मंत्री ने एसीबी कार्यवाही से जुड़े सवाल पर जिस तरह जवाब दिया उससे उनकी घबराहट भी जाहिर हुई ,उन्होंने कहा खुद सीएम को इस मामले में स्पष्टीकरण देते हुए मामले के मुख्य सूत्रधारों का भी खुलासा करने की जरूरत है !
ट्वीट करके भी उठाए सवाल -सांसद ने अपने आधिकारिक ट्विटर व फेसबुक पर परिवहन मंत्री खाचरियावास के करीबी बलजीत यादव का जिक्र करते हुए कहा कि सिटी बसों से रंगदारी करने वाले व्यक्ति आज पूरे परिवहन सिस्टम में अफसरो से काम करवाने का मुख्य  सूत्रधार बना हुआ है,जो जगजाहिर है इसलिए एसीबी को इस विषय पर जांच करनी चाहिए !


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे