पुलवामा की पहली बरसी : मोदी बोले... देश शहीदों का बलिदान कभी नहीं भुला सकता, राहुल ने पूछा... हमले से किसे फायदा मिला?


एजेंसी


नई दिल्ली। पुलवामा हमले की पहली बरसी के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शहीदों को नमन किया। उन्होंने ट्वीट किया, पिछले साल पुलवामा हमले में शहीद हुएबहादुर जवानों को मेरी श्रद्धांजलि। वे असाधारण व्यक्ति थे, जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। भारत उनकी कुर्बानी को कभी नहीं भूलेगा।' वहीं, राहुल गांधी ने भी शहीद सीआरपीएफ के जवानों को याद किया और इसके बाद सरकार की प्रगति को लेकर सवाल उठाए।


तीन सवाल पूछे। पहला, इस हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा मिला? दूसरा, हमले के बाद हुई जांच का परिणाम क्या निकला और तीसरा, भाजपा सरकार ने इस हमले को लेकर हुई चूक के लिए किसे जिम्मेदार ठहराई है? वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर शहीदों को याद किया और कहा कि भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी पुलवामा घटना की बरसी पर ट्वीट किया, 'पुलवामा में आतंकवादी हमले में आज ही के दिन शहीद हुए जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि।'


सीआरपीएफ कैंप में शहीदों को श्रद्धांजलि श्रीनगर में सीआरपीएफ लेथपोरा कैंप में शहीद 40 जवानों को स्मारक पर श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर महाराष्ट्र उमेश गोपीनाथ जाधव मुख्य अतिथि थे। जाधव पुलवामा हमले में शहीद सभी 40 जवानों के घर गए थे। साथ ही जाधव जवानों के अंतिम संस्कार स्थल की मिट्?टी को इकट्ठा करके लाए थे। इसके लिए उन्होंने देश भर में 61 हजार किमी की यात्रा की। इस मौके पर सीआरपीएफ के महानिदेशक जुल्फिकार हसन ने कहा, 'एनआईए ने इस संबंध में जांच पूरी कर चुकी है। हमने इस दिशा में काफी प्रगति की हैहम शहीदों के परिवारों का ध्यान रखने की बेहतर कोशिश कर रहे हैं।' उन्होंने कहा, 'पुलवामा हमले के साजिशकर्ता को हमले के कुछ महीने बाद ही मार गिराया गया था। जिन लोगों हमले को अंजाम दिया थाउसका हिसाब चुकता किया चुका है।'


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन