राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम ने जैसेलमेर के फाकार नरेश सोनी को न्याय दिलाने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा

निजी संवाददाता


चित्तोडगढ। प्रदेश के विभिन्न मीडिया संस्थानों और विभिन्न पत्रकार संगठनों में कार्यरत पत्रकारों के वैचारिक क्रांति के मंच राजस्थान मीडिया एक्शन फेरम के संस्थापक अध्यक्ष अनिल सक्सेना ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर जैसलमेर के पत्रकार नरेश सोनी को न्याय दिलाने की मांग करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है।राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम महासचिव मासिक पत्रिका राजस्थान डायरी के संपादक महिपाल सिंह ने बताया कि जैसलमेर पत्रकार नरेश सोनी ने फोरम के संस्थापक अध्यक्ष अनिल सक्सेना को पत्र लिखकर बताया कि वे कई वर्षों से जैसलमेर में पत्रकारिता कर रह रहे है और जैसलमेर में आयोजित राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम की प्रदेश स्तरीय पत्रकार कार्यशाला में भी मौजद रहे थे । सोनी ने अपने पत्रकार होने की पूरे सबूत मय दस्तावेज फोरम को पेश किए।


जैसलमेर के पत्रकार नरेश सोनी ने अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी दी और राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम से न्याय दिलाने की मांग की । इस घटना की जानकारी लिखित में मिलते ही राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम के संस्थापक अध्यक्ष अनिल सक्सेना ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम के संस्थापक अध्यक्ष अनिल सक्सेना ने कहा कि पत्रकार की खबर पर जैसे ही कार्रवाई होने का अंदेशा होता है तो सबसे पहले प्रभावित वर्ग पत्रकार पर ब्लैकमेल करने का झूठा आरोप लगाकर उसे कठघरे में लाने का कार्य करते है। हम ऐसे लोगो को निंदा करते है और मुख्यमंत्री से निष्पक्ष जांच की मांग करते है। सक्सेना यह भी बताते है कि वर्तमान में पत्रकारिता की आड़ में कई लोग व्यवसाय भी कर रहे है और ऐसे कथित झूठे पत्रकारों के कारण सच्चे पत्रकारों को परेशानी झेलनी पड़ती है। उन्होने बताया कि फोरम ने ऐसे झूठे पत्रकारों के खिलाफभी मुहिम चलाने की योजना बनाई है । सक्सेना ने मुख्यमंत्री से जैसलमेर के मामले में निष्पक्ष जांच करने की मांग करते हुए जो भी दोषी हो उसके खिलाफठोस कार्रवाई करने की मांग की है।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को