समर्पण दिवस के रूप में मनाई गयी दीनदयाल उपाध्याय की पुन्यतिथि


समर्पण दिवस के रूप में याद किया गया जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय के बलिदान को


धौलपुर:- जनसंघ के संस्थापक पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि समर्पण दिवस के रूप में मनाई। राजनिवास पैलेस रोड़ स्थित भाजपा कार्यालय परिसर में कार्यक्रम को भाजपा जिलाध्यक्ष बहादुर सिंह त्यागी की अध्यक्षता व धौलपुर नगर परिषद के पूर्व चैयरमेन रघुबीर सिंह चौधरी के मुख्य आथित्य में मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत दीनदयाल उपाध्याय की तस्वीर के समछ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता कैलाश चंद्र सोनी रहे जिन्होंने पं दीनदयाल उपाध्याय की पुन्यतिथि कार्यक्रम में उपाध्याय के जीवन के पर प्रकाश डाल उनके आर्दशों पर व्याख्यान दिया तथा उन्हें अनुसरण करने के लिये प्रत्येक कार्यकर्ता को आव्हान किया। कार्यक्रम के मुख्य अथिति रघुबीर सिंह चौधरी ने पुन्यतिथि सभा में पहुंचे लोगों को दीनदयाल उपाध्याय के बारे में कहा कि उनके विचारों पर चलकर भारतीय जनता पार्टी आज विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक संगठन बनकर खड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके अंत्योदय के सपने को साकार किया है। वही पुन्यतिथि सभा में जिलाध्यक्ष बहादुर सिंह त्यागी ने धन्यवाद याद ज्ञापित करते हुये उपाध्याय की संगठनात्मक उत्कृष्टता व कुशलता से परिपूर्ण व्यक्तित्व के बारे में भाजपाइयों को अवगत कराया। कार्यक्रम का संचालन कर रहे जिला महामंत्री रविन्द्र श्रोत्रिय ने बताया कि जनसंघ के संस्थापक व भाजपा के प्रेरणास्त्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि, केन्द्रीय संगठन की योजना से जिला स्तर पर कार्यकर्ताओं के बीच समर्पण दिवस के रूप में मनायी गई। 



जिला अध्यक्ष बहादुर सिंह त्यागी, जिला महामंत्री रविन्द्र श्रोत्रिय, पूर्व नगर परिषद चेयरमैन रघुबीर सिंह चौधरी, बच्चू मामा, जिला उपाध्यक्ष शैलेंद्र यादव, नेता प्रतिपक्ष अकील अहमद, हेमसिंह लोधा, पूर्व नगर अध्यक्ष विजय श्रीवास्तव, अविनाश शर्मा, नवल सिंह लोधा, सहाब सिंह डागुर, रामवीर त्यागी, रोशन सिंह मस्ताना, पुरूषोत्तम त्यागी, दिग्विजय सिंह, राजकुमार बघेल, हरेन्द्र राव, प्रदीप ठाकुर बरेह सहित तमाम लोग मौजूद रहे।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ