लाखों रुपये खर्च करने के बाद भी रेलवे परिसर में बना ईको गार्डन करीब एक माह से बन्द,  अधिकारी मौन


फुलेरा : कस्बे के रेलवे परिसर स्थित एसएस बंगले को रेलवे ने कुछ ही वर्षो पूर्व लाखों रुपए खर्च कर ईको गार्डन का एक भव्य रूप दिया था। जो कि करीब एक माह से बंद है। 



इस इको गार्डन में रेलवे के आवासो में निवास करने वाले रेलवे कर्मचारी, वरिष्ठ नागरिक तथा आमजन प्रतिदिन सुबह शाम घूमने-फिरने व योगा करने के लिए आते थे। जो कि पिछले एक माह से बंद पड़ा है। पार्क के मुख्य द्वार पर ताला लटका देख इस गार्डन में घुमने व टहलने के लिए आने वाले सभी लोगो को मायूस होना पड़ रहा है। लेकिन इसके बावजूद भी रेलवे अधिकारी इस ओर कोई ध्यान नही दे पा रहे। वही इस गार्डन में लगी घास व कीमती पेड़-पौधे भी खराब होने के कगार पर है। क्योंकि उन्हें पानी भी नही दिया जा रहा है इसका मुख्य कारण  पार्क के मुख्य द्वार पर ताला लगा है। पार्क बन्द होन के पहले जनता सुबह शाम परिवार सहित इसका उपयोग कर रही थी। बच्चों का भी मनोरंजन केंद्र था ।


इस मामले के बारे में जब स्थानिय पत्रकार ने रेलवे अधिकारियों से सम्पर्क करने की कोशिश की तो अधिकारी ने फोन ही नही उठाया। वही रेलवे अधिकारी मंजय कुमार से बात की तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि शुरू में इस ईको पार्क की देखरेख व रख-रखाव के लिये ठेकेदार को ठेका दिया हुआ था।  उक्त ठेकेदार की अनुज्ञा पूर्ण होने के पश्चात इस गार्डन को बंद कर दिया था। जल्द ही टेण्डर निकाल कर खोल दिया जाएगा।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी