नारायणा हॉस्पिटल व लावण्य सेन्टर के प्लास्टिक सर्जन डॉ. सुनीश गोयल ने कहा... डिंपल सर्जरी से निखरता है आपका व्यक्तित्व


कार्यालय संवाददाता


जयपुर। गालों पर डिंपल पड़ने से आपकी मुस्कान में चार चांद लग जाते हैं। हमारे चेहरे में बक्सीनेटर मांसपेशी और अन्य मांसपेशियां चेहरे पर भाव उभारने में मदद करती हैं। आमतौर पर माना जाता है कि इन मांसपेशियों में गैप के कारण डिंपल्स बनते हैं। ये डिंपल्स हंसते या मुस्कुराते वक्त चेहरे को और आकर्षक बना देते हैं। कॉस्मेटिक सर्जरी द्वारा भी आप अपने गालों पर डिंपल बनवा सकते हैं।


डॉ. सुनीश गोयल ने बताया कि, दोनों तरफ के डिंपल बनने में लगभग एक घंटे का समय लगता है। प्रक्रिया खत्म होते ही आप तुरंत घर जा सकते हैं। सर्जरी के बाद पहले कुछ हफ्तों को फॉलआउट पीरियड कहते हैं। इस समय आपके डिंपल्स हमेशा दिखाई देते हैं। लेकिन जब टांके घुल जाते हैं, तब डिंपल्स सिर्फ मस्कराने पर ही नजर आएंगे। इस सर्जरी के टांके काटे नहीं जाते, बल्कि ये खुद ब खुद घुल जाते हैं। बाहरी त्वचा पर किसी भी तरह का कोई कट आदि का निशान नहीं पहले कुछ हफ्तों के बाद दिखेंगे परिणाम


सर्जरी के बाद थोड़ी सावधानी डिंपल सर्जरी पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है। इस सर्जरी में सामान्यतः कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। सूजन और इंफेक्शन कुछ समस्याएं हो सकती हैं लेकिन ये भी जल्द ही ठीक हो जाती हैं। इस तरह की समस्याएं अक्सर ओरल हाइजीन की तरफ ध्यान न देने से ही होती हैं।


नारायणा हॉस्पिटल व लावण्य सेन्टर के प्लास्टिक सर्जन डॉ. सुनीश गोयल ने बताया कि डिंपल निर्माण सर्जरी दर्द रहित और बहुत ही आसान प्रक्रिया है। डिंपल बनाने के लिए गाल में अंदर की तरफ एक छोटा-सा चीरा लगाया जाता है। ये चीरा बाहर की तरफ इसलिए नहीं लगाया जाता, ताकि चेहरे पर निशान न बने। सर्जरी से पहले आपका मुंह पूरी तरह से साफ होना चाहिए। इसके लिए लगभग दो दिन पहले ही एंटीसेप्टिक माउथवॉश का इस्तेमाल शुरू करने की सलाह दी जाती है।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को