राजस्थान आए इटली के 16 पर्यटक कोरोना वायरस पॉजिटिव, 6 जिलों में घूमे, 6 होटलों में ठहरे और 215 लोगों के संपर्क में आए


इटली के पर्यटकों के संपर्क में आए लोगों को 28 दिन निगरानी में रखा जाएगा


एजेंसी जयपुर। इटली से भारत घूमने आए 26 लोगों के ग्रुप में से 16 में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई है। इन्हें घुमाने वाला ड्राइवर भी वायरस से संक्रमित है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि ग्रुप के सभी लोगों को आइसोलेशन में रखा गया हैभास्कर की पड़ताल में पता चला कि इटली के 26 पर्यटकों का दल राजस्थान के 6 जिलों में 8 दिन तक घूमा। इस दौरान ये लोग 6 होटलों में ठहरे। इन सभी होटलों के कमरे सील कर दिए गए हैं। होटल प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि इन होटलों में किसी अन्य व्यक्ति को कमरे न दिए जाएं। इन पर्यटकों के संपर्क में आए होटल के स्टाफ व अन्य लोगों को 28 दिन तक सर्विलांस में रखने के निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने होटलों को निर्देश दिए कि पर्यटकों के संपर्क में आए लोगों को निगरानी में रखा जाए।


21 फरवरी से 28 फरवरी तक राजस्थान में घूमता रहा यह दलः इटली के इस दल में 23 विदेशी पर्यटक, एक ड्राइवर, एक हेल्पर और एक गाइड शामिल हैयह दल 21 फरवरी को सबसे पहल झझन पहचा। जहा होटलकैसल मंडावा में ठहरा था। इसके बाद 22 को बीकानेर के होटल गजकेसरी में ठहरा। 23 और 24 को जैसलमेर के होटल रंगमहल में एक रात रुका। यहां से दल जोधपुर ल में आ गया और होटल पार्क में रुका। इसके बाद 26 को उदयपुर पहुंचा और वहां होटल ट्राइडेंट में रुका। 28 फरवरी को यह दल उदयपुर से जयपुर आया।


सफर में ही बिगड़ गई थी ांटी माली की तबीयत


28 फरवरी को सफर के दौरान जयपुर रोड पर एंड्री कार्ली की तबीयत बिगड़ गई थी। यहां होटल रमाडा पहुंचते ही उसे की तबायपुर रोड पर एंड्रीकर के तत्काल एंबुलेंस से फोर्टिस टिस अस्पताल भेजा गया। जहां से उसे एसएमएस अस्पताल रेफर कर दिया गया। 29 को उसकी कोरोनावायरस सैंपल की जांच गई जो कि नेगेटिव आई। इसके बाद 2 मार्च को स्थानीय लैब हर्ड जांच में कोरोनावायरस पुष्टि 3 मार्च को पुणे स्थित लैब भी कर दी। 3 मार्च को ही एंड्री काली की पत्नी में भी कोरोना लक्षण मिले।


इन पर्यटन स्थलों पर घूमा दल झुंझनूः मंडावा में चौखानी लडिया हवेली, सराफ हवेली, रघुनाथ मंदिर, गोल्डन हवेली। उदयपुरः फतह सागर, सज्जनगढ़, सहेलियों की बाड़ी, सेलिब्रेशन मॉल, बापू बाजार, अश्विनी बाजार घूमे। नागदा, एकलिंगजी, जगदीश मंदिर क्षेत्र घुमे और पीछोला में सवारी की। जयपुरः जंतर-मंतर, हवा महल, जल महल होते हुए आमेर गए। जोधपुरः उमेद भवन, मेहरानगढ़ के अलावा कुछ अन्य स्थानों पर भी घूमने गया। . जैसलमेरः नथमल हवेली, पटवा हवेली, सोनार किला, मुख्य बाजार और मिट्टी को धोरों की जगह पर भी घूमे।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी