शेखावाटी ने वीरो और भामाशाह को दिया है जन्म

 
*शेखावाटी  ने वीरों और भामाशाह को दिया है जन्म


झुंझुनूं जिले के सोलाना गांव में जन्मे अनेक विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में योगदान देने में अग्रणी रहने वाले  भामाशाह बजरंगलाल अग्रवाल सोलानावाला द्वारा कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए भी एक करोड़ से अधिक का आर्थिक सहयोग सरकार व समाज को किया जा चुका है। वही 100 कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए समस्त खर्चा एसएमएस अस्पताल का उठाने का जिम्मा लिया है। राजस्थानी क्राफ्ट फाउंडेशन के प्रबंधक बजरंगलाल अग्रवाल सोलानावाले के द्वारा प्रधानमंत्री केयर में 31 लाख, मुख्यमंत्री राहत कोष में 21 लाख, एमआईए व वीकेआई में एक एक  लाख झुंझुनू जिले में एक लाख, गौशाला मे आठ लाख ,मारवाड़ी युवा मंच में दो लाख सहित एक हजार से अधिक लोगों के लिए प्रतिदिन दोनों समय का भोजन पैकेट उपलब्ध करवाई जा रहे हैं। साथ ही हजारों गायों के लिए प्रतिदिन चारे की व्यवस्था भी की जा रही है। कोरोना महामारी से प्रभावित एक सौ रोगियों पर सवाई मानसिंह अस्पताल में होने वाले समस्त खर्चे का भुगतान सरकार को राजधानी क्राफ्ट फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा है। विदित रहे कि बजरंगलाल अग्रवाल सोलाना वाले झुंझुनू जिले की अनेक गौशालाओं को आर्थिक सहयोग के रूप में प्रतिवर्ष लाखों रुपए देते हैं। वहीं क्षेत्रीय आवश्यकतानुसार भी समय-समय पर सामाजिक कार्य में सहयोग प्रदान करते रहते हैं। लोक सेवाओं के अतिरिक्त भगवान महावीर कैंसर अस्पताल में प्रतिदिन 2000 लोगों को करवाए जा रहे भोजन में इनकी ओर से चावल दिए जाते हैं‌। झालावाड़ एवं पाटन एरिया में प्रतिदिन लगभग 4000 लोगों को भोजन दिया जा रहा है। जो कि 7 अप्रैल को शुरू किया गया था एवं लोक डाउन तक जारी रहेगा। हाल ही शास्त्री नगर स्थित सरकारी अस्पताल में 50 व्यक्ति के शयन के लिए बेड दिए व सोलानावाले  कहते हैं गाय हमारी माता है।                                       कि इसके दूध,दही,घी व छाछ का सेवन करने से जीवन आनंदमयी रहता है, हमारा मन और शरीर दोनों ठीक रहते हैं मानव जीवन के लिए गाय माता की रक्षा करना हर आदमी का धर्म और फर्ज है इसी भावना के अनुरूप श्री रामदेव गोशाला चैतन्य धाम बगरू द्वारा संचालित आठ गौशाला सहित अन्य विभिन्न गौशालाओं में 70 से अधिक चारे के ट्रक भेजे गए हैं। *स्वामी महाराज रामकरन जी द्वारा संचालित 2500 गायों वाली जोतावाला गौशाला, शिकारपुरा, जयपुर का लिया जिम्मा।                                       उनका कहना है कि किसी को भोजन प्रदान करने में सक्षम होने से ज्यादा संतुष्टि दायक कुछ भी नहीं हो सकता। कोविड-19 के खिलाफ सरकार के साथ काम करने के लिए राजधानी शिल्प फाउंडेशन की प्रतिबद्धता की निरंतरता में राजधानी क्राफ्ट फाउंडेशन की टीम ने जरूरतमंद लोगों को भोजन और पीड़ितों को चिकित्सा सुविधा प्रदान करके कोरोना लॉक डाउन के दौरान राष्ट्र के लिए प्रयासों को आगे बढ़ाया। सेठ बजरंग लाल सोलानावाले के दो सुपुत्र सुधीर अग्रवाल व समीर अग्रवाल व्यवसाय करते हैं उनके द्वारा झुंझुनू के अलावा कोविड-19 महामारी के चलते झालावाड़, पाटन व जयपुर सहित अनेक स्थानों पर आमजन में जानवरों के लिए दिल खोलकर भरपूर सहयोग किया जा रहा है। दोनों पुत्रों ने प्रधानमंत्री महाभियान संकल्प से सिद्धि,नव भारत निर्माण के प्रदेश प्रतिनिधि प्रदीप खेतान के कुशल नेतृत्व,सेवा भाव के जज्बे को देखते हुये इस आपदा के समय मे राजधानी क्राफ्ट फाउंडेशन जयपुर ने पुरा सहयोग दे कर जयपुर शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में लोगों को खाद्य सामग्री वितरित करवाने का कार्य कर रहे हैं । साथ ही कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव हेतु जानकारी भी दे रहे हैं।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी