प्रदूषण रोकने के लिए वृक्षारोपण आवश्यक- कुंवर राष्ट्रदीप 

 प्रदूषण रोकने के लिए वृक्षारोपण आवश्यक- कुंवर राष्ट्रदीप


अजमेर! पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप सिंह ने कहा कि बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण को रोकने के लिए वृक्षारोपण अति आवश्यक है। पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के लिए वृक्षारोपण करना चाहिए। पुलिस अधीक्षक सिंह जवाहर फाउंडेशन द्वारा क्लीन अजमेर ग्रीन अजमेर कार्यक्रम के तहत राजकीय विधि महाविद्यालय में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के बोल रहे थे। कोरोना संकटकाल में आयुर्वेद के महत्व को समझाते हुए पुलिस अधीक्षक सिंह ने कहां कि अधिक से अधिक वृक्षारोपण करके ही जीव सृष्टि को संरक्षित किया जा सकता है कोरोना के बचाव के लिए अनेक ऐसी औषधीय वनस्पतियां है जिनका काढ़ा पीने से अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सकते हैं ।


उन्होंने कहा कि भारत की सभ्यता वनो की गोद में ही विकासमान हुई है। हमारे यहां के ऋषि-मुनियों ने वृक्ष की छांव में बैठकर ही चिंतन मनन के साथ ही ज्ञान के भंडार को मानव को सौंपा है।इस अवसर पर पूर्वांचल जन चेतना समिति के सहयोग से राजकीय विधि महाविद्यालय के प्राचार्या डॉ विभा शर्मा पूर्वांचल जन चेतना समिति के मैनेजिंग ट्रस्टी रजनीश कुमार अध्यक्ष राजेंद्र गोयल एवं ग्रीन आर्मी के सचिव कुलदीप सिंह गहलोत के नेतृत्व में विधि महाविद्यालय परिसर एवं आसपास 50 नीम के पेड़ मय टी गार्ड लगाए गए !


इस अवसर पर पूर्वांचल जन चेतना समिति के महासचिव शिव कुमार बंसल महेश चौहान मामरज सेन शैलेंद्र अग्रवाल सबा खान सौरभ यादव लोकेश चारन राव तुषार सिंह यादव बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष दीपक शर्मा डॉ आर एन चौधरी, डॉ आशीष वर्मा हर्ष एनिया नीलम चौधरी नफीसा बानो आदि उपस्थित थे। पूर्वांचल जन चेतना समिति अजमेर के महासचिव शिव कुमार बंसल ने बताया कि जवाहर साउंडेशन एवं पूर्वांचल जन चेतना समिति द्वारा इस वर्ष अजमेर जिले में नगर निगम महाविद्यालय एवं विद्यालयों के सहयोग से10 हजार वृक्षों का वृक्षारोपण किया जाएगा।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी