*प्रदेश स्तर पर  सर्वाधिक सक्रिय 16 अपराधी गिरफ्तार

*प्रदेश स्तर पर  सर्वाधिक सक्रिय 16 अपराधी गिरफ्तार



जयपुर, 24 अगस्त। राजस्थान पुलिस की सर्वाधिक सक्रिय वांछित अपराधियों की धरपकड करने के लिए संचालित कार्यवाही के तहत राज्य स्तर पर सूचिबद्ध 25 सर्वाधिक सक्रिय अपराधियों में से जनवरी माह से जुलाई माह तक 16 अपराधियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।


 


महानिदेशक पुलिस  भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि सर्वाधिक सक्रिय वांछित अपराधियों एवं आपराधिक तत्वों की गतिविधियों पर प्रभावी नियंत्रण एवं इनके विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही अमल में लायी जा रही है। निर्धारित प्रावधानों के अनुसार प्रत्येक थाने, वृत, जिले एवं प्रत्येक रेंज स्तर पर 10-10 सर्वाधिक सक्रिय वांछित अपराधियों को सूचिबद्ध कर उनके विरूद्ध दर्ज प्रकरणों को केस आॅफिसर स्कीम में लिया जाता है। इनकी गिरफ्तारी के बाद न्यायालय में सम्पूर्ण आपराधिक रिकार्ड प्रस्तुत किया जाता है, ताकि उन्हें जमानत ना मिल सकें। 


 


 सिंह ने बताया कि राज्य स्तर पर जनवरी माह में चिन्हित 25 सर्वाधिक सक्रिय अपराधियों में से जुलाई माह तक 16 अपराधियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जोधपुर ग्रामीण जिले के 20 हजार के इनामी श्याम लाल विष्नोई एवं श्रीराम विष्नोई को 29 जनवरी को गिरफ्तार किया गया। इस प्रकार 10 हजार के इनामी श्याम लाल के विरूद्ध हत्या के प्रयास के 8, डकैती/लूट प्रयास के 3, एनडीपीएसए के 1 व 3 अन्य मामलों सहित कुल 15 मामले दर्ज है। श्रीराम के विरूद्ध हत्या के प्रयास के 9, राजकार्य में बाधा के 7, एनडीपीएसए का 1 सहित 17 मामले दर्ज थे। 


 जालोर जिले के 50 हजार के इनामी जगदीश विष्नोई को 16 मार्च को गिरफ्तार किया गया। जगदीश के विरूद्ध हत्या के प्रयास का एक चिटिंग/फार्जरी के 3 व 5 अन्य सहित 9 मामले दर्ज थे। जयपुर पष्चिम जिले के 10 हजार के इनामी व 20 चिटिंग/फोर्जरी मामले में वांछित पंकज शर्मा को 11 मई को गिरफ्तार किया गया। जयपुर दक्षिण जिले के 10 हजार के इनामी व डकैती/लूट प्रयास के 28 मामलों में वांछित नगेन्द्र सिंह गूर्जर को 17 मार्च को गिरफ्तार किया गया। 


 


चूरु जिले के 10 हजार के इनामी गजेंद्र सिंह राजपूत को 6 मई को गिरफ्तार किया गया। गजेंद्र सिंह के विरुद्ध हत्या का एक, हत्या के प्रयास के 5, डकैती व लूट के प्रयास के 4, राजकार्य में बाधा का 1, एनडीपीएसए का 1, एक्साइज का 1 व 6 अन्य सहित कुल 19 मामले दर्ज थे। धौलपुर जिले के 15 हजार के इनामी रामविलास गुर्जर को 13 मई को गिरफ्तार किया गया रामविलास के विरुद्ध हत्या के प्रयास के 8 डकैती व लूट प्रयास के 9 चीटिंग/फोर्जरी के 4 सहित कुल 19 मामले दर्ज थे। 


 


महानिदेशक ने बताया कि धौलपुर जिले के ही पप्पू गुर्जर को 7 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया। कुल 15 हजार रूपये के इनामी पप्पू के विरुद्ध हत्या का एक हत्या के प्रयास के 32 डकैती व लूट प्रयास के 5 आर्म्स एक्ट का एक व 13 अन्य सहित कुल 52 प्रकरण दर्ज थे। धौलपुर जिले के ही 25 हजार रूपये के इनामी भरत गुर्जर को 29 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया। भरत के विरुद्ध हत्या का 1 हत्या के प्रयास के 6 डकैती व लूट के प्रयास के 12 व 5 अन्य सहित 24 मामले दर्ज थे। 


 


सीकर जिले के सीताराम जाट को 25 मई को गिरफ्तार किया गया। कुल 10 हजार रूपये के इनामी सीताराम के विरुद्ध हत्या के प्रयास का एक व एक अन्य सहित कुल 2 मामले दर्ज थे। 


कोटा शहर के मोहित उर्फ रजनीकांत खटीक 26 मई को गिरफ्तार किया गया। पंाच हजार के इनामी मोहित खटीक के विरुद्ध हत्या के प्रयास के 6 डकैती व लूट के प्रयास के 3 व 12 अन्य सहित कुल 21 मामले दर्ज थे। हनुमानगढ़ जिले के 5 हजार के इनामी दीपक शर्मा को 24 जून को गिरफ्तार किया गया। दीपक शर्मा के विरुद्ध हत्या के 2 एनडीपीएसए का 1 व 7 अन्य सहित कुल 10 मामले दर्ज थे। धौलपुर जिले के लटूरी उर्फ लाल सिंह ठाकुर को 16 जून को गिरफ्तार किया गया। लटूरी के विरुद्ध 10 हजार का इनाम घोषित था एवं उसके विरुद्ध हत्या के प्रयास के 3 डकैती व लूट प्रयास के 12 राजकार्य में बाधा का आम्र्स एक्ट व 4 अन्य सहित कुल 21 मामले दर्ज थे।


 


 धौलपुर जिले के धर्मेंद्र उर्फ लुक्का गुर्जर को 3 जुलाई को गिरफ्तार किया गया। कुल 15 हजार के इनामी धर्मेंद्र के विरुद्ध हत्या के 2 हत्या के प्रयास का 1 डकैती व लूट के प्रयास के 6, राजकार्य में बाधा का 1 व 7 अन्य सहित कुल 17 मामले दर्ज थे। हनुमानगढ़ जिले के 5 हजार रूपये के इनामी कालिया उर्फ कालू राम जाट को 8 जून को गिरफ्तार किया गया। कालिया के विरुद्ध आर्म्स एक का एक व एक अन्य सहित कुल 2 मामले दर्ज थे। धौलपुर जिले के 10 हजार रूपये के इनामी गब्बर सिंह गुर्जर को 28 जुलाई को गिरफ्तार किया गया। गब्बर सिंह के विरुद्ध हत्या का 1 हत्या के प्रयास के 2 डकैती व लूट के प्रयास के 2 राजकार्य में बाधा के 3 आर्म्स एक्ट के 2 एनडीपीएसए के 2 व 7 अन्य सहित कुल 19 मामले दर्ज थे।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी