भारत में संतों का स्थान सर्वोच्च-सांसद दीयाकुमारी

 भारत में संतों का स्थान सर्वोच्च-सांसद दीयाकुमारी


 


*कुम्भलगढ़ विधानसभा के सूरजकुंड आश्रम पर संतों से लिया आशीर्वाद*



जयपुर, 26 अक्टूबर। सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि संत समागम से सात्विक ऊर्जा का संचार होता है। ऋषि मुनियों के देश भारत में संतों का स्थान सर्वोच्च है। सन्तो की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। जहां लोक और परलोक दोनों ही सुधर जाते हैं, वहीं अमंगल भी मंगल में बदल जाते है। सांसद ने कहा कि गुरु के रूप में साधु-संत सिर्फ समाज ही नहीं पूरे राष्ट्र को उत्कृष्ट दिशा प्रदान करते हैं। यह संतो का आशीर्वाद ही है जो मुझे श्रीनाथजी, द्वारिकधीशजी, चारभुजाजी और मीरा बाई जैसी भक्त शिरोमणि की नगरी की सेवा करने का अवसर प्राप्त हुआ है। 


कुम्भलगढ़ विधानसभा के सूरजकुंड आश्रम के ओलादर स्थित निर्माणाधीन बर आश्रम पर अवधेश चेतन्य ब्रह्मचारी महाराज से आशीर्वाद लेने पहुंची सांसद दीयाकुमारी ने महाराज को जयपुर सिटी पैलेस प्रवास का निमंत्रण दिया। इस अवसर पर कुम्भलगढ़ विधायक सुरेन्द्र सिंह राठौड़, भाजपा जिलाध्यक्ष वीरेंद्र पुरोहित, उपाध्यक्ष गोपाल कृष्ण पालीवाल, जिलामंत्री गोपाल गुर्जर, हितेश जोशी, खुमाण सिंह राव, कमला जोशी सहित कई भक्तगण और कार्यकर्ता उपस्थित थे। इसके बाद सांसद ने चारभुजा मंदिर पहुंच कर गढ़भोरनाथ के दर्शन किये।


*सांसद ने शहर में किये उद्घाटन-*


प्रातः 9 बजे राजसमन्द शहर के दौरे पर पहुंची सांसद दीयाकुमारी ने विभिन्न उद्घाटन कार्यक्रम में भाग लिया जहां व्यापारिक और गौशाला से सम्बंधित संगठनों ने ज्ञापन देकर कठिनाइयों को दूर करने की मांग रखी।


 


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ