गोविंद देवजी मंदिर को गिनीज बुक रिकार्ड में लाने वाले अधिशासी अभियंता अरविंद कुमार सिंह हुए  सेवानिवृत्त

 गोविंद देवजी मंदिर को गिनीज बुक रिकार्ड में लाने वाले अधिशासी अभियंता अरविंद कुमार सिंह हुए  सेवानिवृत्त


                                                                                   जयपुर 1अक्टूबर। जयपुर के आराध्य श्री गोविंद देव जी मन्दिर के बिना पिलरों का भव्य हाल बनाने वाले अरविन्द कुमार सिंह का जन्म ( 16-08-1960) स्थान गांव मदारिया, जिला गोरखपुर उत्तरप्रदेश है।  इनका गांवसरयु नदी के किनारे पर स्थित है। जो कि अयोध्या से 70 किमी दुरी पर है।


 इनकी प्राइमरी शिक्षा 8वीं तक पेतृक गांव में हुई उसके बाद 9,10वीं की शिक्षा बिजोलिया (भीलवाड़ा) से प्राप्त की। 11वीं की शिक्षा राजभोज की नगरी धार, मध्यप्रदेश से प्राप्त करने के बाद उच्च शिक्षा श्री गोविंदरम शिक्षा इंस्टिट्यूट टेक्नोलॉजी एंड साइंस कॉलेज इन्दौर युनिवर्सिटी से बीए (सिविल) वर्ष 1981 मेंे प्राप्त की। वर्ष 1981 में ही आप गुजरात PSC में सलेक्ट होकर गुजरात में सरदार सरोवर डेम पर करीब एक  वर्ष सहायक अभियंता के रूप मे कार्य किया।


दिपावली अवकाश पर अपने माता - पिता से मिलने आप जयपुर आये एवं माता जी के कहने पर आपने गुजरात की नौकरी छोड दी। वर्ष 1982 में आपकी पोस्टिंग कनिष्ठ अभियंता, सानिवि सिटी-1 जयपुर पद पर हुई।उसके उपरान्त समस्त सेवा काल आप जयपुर में ही कार्यरत रहे।1984 में आपकी पोस्टिंग हाउसिंग बोर्ड में एशिया की सबसे बडी कॉलोनी मानसरोवर मेंहुई। कार्य के दौरान आपको एशिया लेवल के कम्पीटिशन में Low cost housing project में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर कैश अवार्ड भी मिला।


 आपने राजस्थान की नई विधानसभा का कार्य सम्पादन वर्ष 1994 से 2001 तक करवाया । विधानसभा प्रोजेक्ट पर ही वर्ष 1997 में आपका प्रमोशन सहायक अभियंता के पद पर हुआ।  प्रमोशन के उपरान्त भी आप प्रोजेक्ट पूर्ण होने तक कार्य किया।वर्ष 2001 से 2008 तक आप आरएसआरडीसी में कार्यरत रहे। वर्ष 2010 में आपका प्रमोशन अधिशषी अभियंता पद पर हुआ।वर्ष 2014 से अब तक पीएमजीएसवाई में कार्यरत रहें। PMGSY में 6 वर्ष कार्य किया ।आपने पूरे कार्यकाल में बहुत सारे हार्ड वर्क सम्पादित कराये जिसमें मुख्य लो कॉस्ट हाउसिंग प्रोजेक्ट राजस्थान विधानसभा, ब्रिज कार्य, BOT रोड कार्य गोविंद देव मन्दिर का कार्य, रेल्वे के बॉर्ड गेजिंग का कार्य । आपने सभी कार्य सीमा समय पर ही किया


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को

चीन में फैले वायरस से हुई महामारी की भविष्यवाणी सत्य साबित , पूरे विश्व में केवल भारत देश के दिलीप नाहटा ही ऐसे ज्योतिषी बने , जिन्होंने 2020 में चीन में आए वायरस की सबसे बड़ी भविष्यवाणी सटीक रूप से लिखी थी