ममता जोशी मौत प्रकरण* की निष्पक्ष जांच को लेकर कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

ममता जोशी मौत प्रकरण की निष्पक्ष जांच को लेकर कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन                                                                       गांधी नगर  7 अक्टूबर। अखिल भारतीय श्री गुर्जर गौड़ महिला महासभा ने बुधवार को अहमदाबाद कलक्टर कार्यालय पर *ममता जोशी मौत प्रकरण* की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर एक ज्ञापन पत्र सौंपा। महिला महासभा की अध्यक्ष राधा सतीश पंचारिया की अगुवाई में श्री गुर्जर गौड़ ब्राह्मण समाज के महिला एवं पुरुषों ने बड़ी संख्या में कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर ममता जोशी को न्याय दिलाने की मांग की।                         *समाज की ओर से इस मौत प्रकरण पर मुख्यमंत्री  विजय रुपाणी के नाम जिला कलेक्टर को एक ज्ञापन पत्र सौंपा* गया जिसमें चार प्रमुख मांगें रखी। 1 मुख्य आरोपी प्रकाश जोशी पर हत्या का मुकदमा दर्ज हो। 2 इस प्रकरण में शामिल दो अन्य महिलाओं चंदा रावत (राजपूत) व पूनमबेन को सह आरोपी बनाया जाए। 3 मुख्य आरोपी प्रकाश जोशी की जमानत पर सुनवाई से पहले पीड़ित पक्ष को अपनी बात रखने का मौका दिया जाए 4 वासणा घटनास्थल के सामने वह पास की दुकानों पर लगे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच हो ताकि सच्चाई सामने आ सके। गौरतलब है कि अहमदाबाद के वासणा थाना क्षेत्र में रहने वाली *ममता प्रकाश जोशी जी ने 28 सितंबर को पति की शारीरिक व मानसिक प्रताड़ना से तंग आकर आत्मदाह* कर लिया। मरने से पहले अपने बयान में ममता जी ने अपने पति प्रकाश के दो अन्य महिलाओं से अनैतिक सम्बन्ध तथा सास - ससुर को इस जघन्य कृत्य के लिए दोषी ठहराया । समाज में होने वाली इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके , इसी के लिए संपूर्ण गुजरात एवं राजस्थान की महिलाओं द्वारा समग्र राजस्थान एवं गुजरात के हर जिला तहसील में ज्ञापन देने का फैसला लिया गया है। जिससे ममता जी जैसी बेटियों को न्याय मिल सके।


 *अखिल भारतीय श्री गुर्जर गौड़ महिला महासभा* की पदाधिकारी राधा सतीश  पंचारिया अध्यक्ष,  समाज के वरिष्ठ सदस्य शंकर लाल श्रोत्रिय, पूर्व अध्यक्ष वासुदेव उपाध्याय, महासचिव कमलेश जोशी, मृतका के परिजन प्रभु दयाल जी व्यास, भाई महावीर शर्मा, नीरज व्यास आदि मौजूद रहे। 


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे