एसीबी की बड़ी कार्यवाही, श्रीगंगानगर आयुक्त को 1.40 नकदी के साथ पकड़ा

एसीबी की बड़ी कार्यवाही, श्रीगंगानगर आयुक्त को 1.40 नकदी के साथ पकड़ा



 सीकर 5 दिसम्बर l भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने शनिवार रात श्रीगंगानगर नगर परिषद आयुक्त प्रियंका बुडानिया को अवैध पैसा ले जाने के आरोप में पकड़ा है। उनकी निजी कार में एक लाख 40 हजार रुपए मिले हैं। कार्रवाई रात करीब दस बजे राष्ट्रीय राजमार्ग पर लक्ष्मणगढ़ कस्बे में उस दौरान की गई जब वह परिवार के लोगों के साथ कार में जयपुर जा रही थी। एसीबी टीम आयुक्त बुडानिया व परिवार के सभी लोगों को पुलिस थाने ले आई। थाने में बरामद पैसों को लेकर बुडानिया व उनके परिवार के लोगों से अलग-अलग पूछताछ की जा रही है। हालांकि देर रात तक आयुक्त की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की गई। एसीबी डीवाईएसपी जाकिर अख्तर ने बताया कि किसी ने आयुक्त के खिलाफ अवैध पैसा लेकर जयपुर जाने की सूचना दी। इस पर लक्ष्मणगढ़ के पास उनकी गाड़ी को रुकवा कर तलाशी ली गई। गाड़ी में उनका चालक, भाभी व दो बच्चे बैठे थे। तलाशी में कार में एक लाख 40 हजार रुपए मिले। इन रुपए को लेकर आयुक्त बुडानिया से पूछताछ की गई तो उन्होंने यह पैसा किसी से लेकर आने की जानकारी दी। अब एसीबी टीम उन सभी लोगों से इन पैसों के संबंध में पूछताछ कर रही है। जांच में पैसा अवैध पाए जाने पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

वर्ष 2013 बैच की आरएमएस अधिकारी प्रियंका बुडानिया का विवादों से पुराना नाता है। वे अजमेर जिले के सारवाड़, पुष्कर, सीकर के लक्ष्मणगढ़, खंडेला और सूरतगढ़ नगर पालिका में पदस्थापित रही है। लक्ष्मणगढ़ में पार्षदों ने उनके खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया था। भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते उन्हें खंडेला से निलंबित किया गया था।

एसीबी में तीन परिवाद हैं लेकिन फिर भी जांच नहीं हुई, श्रीगंगानगर में कथित रूप से कायदों की अनदेखी कर 64 आटो टिप्पर और 5 फोगिंग मशीन खरीदने के मामले में एसीबी में उनके खिलाफ पहले से परिवाद दायर है, लेकिन इसकी जांच पिछले तीन महीने से अटकी हुई है। दूसरे परिवाद में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सोडियम हाइपो क्लोराइट की खरीद में भी अनियमितता का आरोप है। वहीं फरवरी में कचरा पात्र खरीद मामले में भी उन पर आरोप लगे थे।

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ