प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिराने के लिए भाजपा फिर षडयंत्र कर रही - अशोक गहलोत

 कांग्रेस सरकार गिराने के लिए भाजपा फिर षडयंत्र कर     रही - अशोक गहलोत

भाजपा कार्यालय निर्माण के लिए अमित शाह भेजते हैं पैसा 

सिरोही 5 दिसम्बर । राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने सिरोही जिले के शिवगंज में कांग्रेस कार्यालय के नए भवन का उद्घाटन किया। इस समारोह में वीसी के जरिए प्रदेश महासचिव अजय माकन और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी जुड़े। सीएम ने कहा कि राजस्थान की जनता चाहती है कि कांग्रेस की सरकार पूरे पांच वर्ष चले। लेकिन भाजपा के नेता बार बार सरकार गिराने का षडय़ंत्र करते हैं। जुलाई अगस्त में सरकार गिराने का जो षडयंत्र किया, उसे विधायको की एकजुटता ने विफल कर दिया। लेकिन अब दोबारा से सरकार गिराने का षडयंत्र हो रहा है, लेकिन मैं साफ कर देना चाहता हंूं कि भाजपा का षडयंत्र सफल नहीं होगा। गहलोत ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा में बहुत फर्क है। राजस्थान में जिला स्तर पर भाजपा कार्यालय के जो भवन बन रहे हैं, उनके लिए अमित शाह दिल्ली से पैसा भेजते हैं। किसी कार्यालय को पचास लाख तो किसी को एक करोड़ रुपए तक दिए जाते हैं। जबकि वहीं कांग्रेस के कार्यालय जनता के सहयोग से बनेगे। हम पार्टी कार्यालय के लिए आम लोगों से आर्थिक सहयोग मांगेगे। सीएम ने कहा कि भाजपा कार्यालयों के लिए नोट बंदी के दौरान जमीन खरीदी गई। गहलोत ने पीएम केयर फंड को लेकर भी सवाल उठाए। गहलोत ने कहा कि पीएम केयर फंड के बारे में कोई पूछने वाला नहीं है। इस फंड में औद्योगिक घराने सौ करोड़ से लेकर 500 करोड़ रुपया तक दे रहे हैं। गहलोत ने कहा कि देश का किसान सड़कों पर है, लेकिन केन्द्र सरकार को कोई चिंता नहीं है। कृषि कानूनों को जब बहुमत के आधार पर संसद से पास करवाया गया तब कांग्रेस शासित राज्यों से चारों मुख्यमंत्रियों ने राष्ट्रपति से मुलाकात का समय मांगा था। लेकिन राष्ट्रपति ने मुख्यमंत्रियों को नहीं बुलाया। यदि उसी समय हमारी बात सुन ली जाती तो आज किसानों को भरी सर्दी में सड़कों पर नहीं आना पड़ता। 

निर्दलीय विधायक ने बनवाया कार्यालय भवन:

 गहलोत ने शिवगंज में जिस कांग्रेस कार्यालय के भवन का उद्घाटन किया उसे शिवगंज के निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा ने बनवाया है। सीएम ने अपने संबोधन में कहा कि संयम लोढ़ा ने भले ही निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव जीता हो, लेकिन वे हमेशा कांग्रेस के साथ रहे हैं। चूंकि जुलाई अगस्त में संयम लोढ़ा 34 दिनों तक कांग्रेस के विधायकों के साथ रहे,इसलिए कांग्रेस के गुण समझ पाए। हमारे साथ रहने की वजह से ही संयम लोढ़ा ने शिवगंज में कांग्रेस का कार्यालय बनाया है। सीएम ने कहा कि संयम लोढ़ा से कांग्रेस के दूसरे विधायक भी प्रेरणा ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर कांग्रेस का अपना कार्यालय होना ही चाहिए। जयपुर में प्रदेश कार्यालय का नया भवन बनना चाहिए। यहां यह उल्लेखनीय है कि संयम लोढ़ा सीएम अशोक गहलोत के प्रति हमेशा वफादार रहे हैं। गत विधानसभा के चुनाव में सचिन पायलट के प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष रहते हुए लोढ़ा को टिकिट नहीं मिल सका था। लेकिन लोढ़ा ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा और विधायक बने। जुलाई अगस्त में राजनीतिक संकट के समय लोढ़ा पूरी तरह सीएम गहलोत के साथ रहे ।


 सीएम अशोक गहलोत ने अमित शाह पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है बागी विधायकों से मिले थे अमित शाह। एक घंटे की बैठक में धर्मेद्र प्रधान और सैयद जफर इस्लाम भी शामिल थे। शाह ने विधायकों से कहा था कि यह मेरा प्रेस्टीज पाइंट है। मैंने 5 सरकारें गिरा दी हैं, छठी गिरा कर रहूंगा,गहलोत ने कहा राजस्थान सरकार को फिर गिराने की कोशिश कर रहे हैं अमित शाह

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ