पुलिस अधिकारी के नाम से (पीपीआई) प्रदेशाध्यक्ष को जान से मारने की धमकी, सीएम से मदद की गुहार

 पुलिस अधिकारी के नाम से (पीपीआई) प्रदेशाध्यक्ष को जान से मारने की धमकी, सीएम से मदद की गुहार

जयपुर। न्यू इंडिया खबर के चीफ एडिटर एवं पीरियोडिकल प्रेस ऑफ इंडिया (PPI) के प्रदेशाध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार सन्नी आत्रेय को जान से मार देने के धमकी भरे कॉल के विरोध में सोमवार को शहर के सी स्कीम स्थित सेंट्रल पार्क में पीपीआई के बैनर तले पत्रकारों ने एक बैठक आयोजित की।                         

                  सन्नी आत्रेय, प्रदेशाध्यक्ष (पीपीआई) 
                                                                                       इस दौरान पत्रकार सन्नी आत्रेय ने मीडिया को बताया कि पिछले दिनों उनके द्वारा मानसरोवर में वरुण पथ पर जुआ व सट्टेबाजी आदि अवांक्षित गतिविधियों के खिलाफ खबर चलाने पर एतराज जताते हुए खुद को पुलिस का आला अधिकारी बताकर एक व्यक्ति ने इस तरह की खबरें नहीं चलाने की चेतावनी देते हुए जान से मार देने की धमकी दी थी। इसके विरोध में पत्रकार सन्नी ने पत्रकारों की एक मीटिंग की और धमकी भरे कॉल के विरोध में सीएम के नाम एक ज्ञापन जारी किया है।     
           अशोक मेहता,  अध्यक्ष, न्याय संघर्ष संगठन 
                                                                                        उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से राज्य सरकार से ये गुहार लगाई है कि इस तरह एक पुलिस अधिकारी के नाम का दुरुपयोग करते हुए एक पत्रकार को अपने कर्तव्य का निर्वहन करने पर जान से मार देने की धमकी देना सरासर अनुचित है। इस पूरे गम्भीर मामले का मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री स्तर पर गहनता से जांच की जाए। साथ ही पत्रकार सन्नी एवं उनके परिवार के सभी सदस्यों को कानूनी रूप से सहयोग व सुरक्षा भी दी जाए।.                     
                 डॉ सुरेन्द्र शर्मा. अध्यक्ष (पी पी आई) 
                                                                                        गौरतलब है कि गत 8 दिसम्बर को वरिष्ठ पत्रकार सन्नी के मोबाइल नम्बर 8107068124 पर एसीपी मानसरोवर संजीव चौधरी के नाम से इस मोबाइल नम्बर 8005926445 से धमकी भरा कॉल आया, जिसमें वरुण पथ मानसरोवर में चल रही जुआ, सट्टेबाजी व अवांक्षित गतिविधियों की खबर चलाकर मामले को उजागर करने पर सन्नी को जान से मारने एवं गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी गई। साथ ही इस तरह की खबरें भविष्य में नहीं चलाने की धमकी देते हुए पत्रकार आत्रेय को अपने हद में रहने की नसीहत भी दी गई।बैठक में वरिष्ठ पत्रकार विजय पांडे, अचल सिंह, सुनील जैन, गोविंद सिंह, अशोक मेहता, मुकेश जत्ती, राजेश शर्मा, हरीकिशन झा, अमित कुमार , भवर चौहान एवं डॉ सुरेन्द्र शर्मा उपस्थित रहे ।

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन