खनिज धातु मजदूर महासंघ की कार्यसमिति बैठक सम्पन

 खनिज धातु मजदूर महासंघ की कार्यसमिति बैठक सम्पन 

 समाज पूंजी और पसीने दोनों से चलता है


उदयपुर । । भारतीय खनिज धातु मजदूर महासंघ (भामसंघ) की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक उदयपुर स्थित किसान भवन में आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरिमोहन चांडक तथा संचालन राष्ट्रीय महामंत्री राजेन्द्र मिश्र छत्तीसगढ़ द्वारा किया गया।

खनिज धातु मजदूर महासंघ के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेन्द्र सारस्वत बीकानेर ने बताया कि देश भर के खनन क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों के सबसे बड़े प्रतिनिधि महासंघ की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक रविवार को सम्पन्न हुई। बैठक को संबोधित करते हुए भारतीय मजदूर संघ के अखिल भारतीय महामंत्री विनय कुमार सिन्हा ने कहा कि दूसरी सरकारों की तरह केन्द्र की मोदी सरकार भी पूंजीपतियों की सरकार है। भाजपा शासित राज्यों में मजदूर विरोधी नीतियां लागू की जा रही है। नये श्रम कानूनों के नाम पर मजदूरों से हड़ताल करने तथा युनियन बनाने के अधिकार छीने जा रहे हैं। हम इसका विरोध करते है। सरकारों को समझना होगा कि समाज पूंजी और पसीने दोनों से चलता है। भारतीय मजदूर संघ इन कानूनों में किए गए श्रम विरोधी प्रावधानों के खिलाफ 12 फरवरी को चैन्नई में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक में आंदोलन की रणनीति बनायेगी। संसद में पारित लेबर कोड बिल ने मजदूरों के अधिकार छीन लिये हैं। भारतीय मजदूर संघ कानून को पूरी तरह से वापस लेने की बात तो नहीं करता है परन्तु उसमें जरूरी बदलाव होने तक विरोध जारी रहेगा। हालांकि सरकार के सामाजिक सुरक्षा के उन प्रावधानों का स्वागत करते हैं जिसमें कई कामगारों को शामिल किया गया है जो अब तक नहीं थे। हमने सरकार को सुझाव भी दिये हैं कि अब तक सौ मजदूर संख्या वाली कंपनी में लेबर कोड लागू होता था उसमें पचास मजदूर करें परन्तु इसके विपरीत जाकर सरकार ने संख्या तीन सौ कर दिया गया है। मशीनीकरण के युग में इससे अठानवें फीसदी उद्योग में काम करने वाले मजदूरों के अधिकार छीन लिये गये हैं। बैठक को केन्द्रीय नोनकोल प्रभारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय ने संबोधित करते हुए कहा कि राजस्थान प्रदेश की भुमि भुगर्भ रत्ना है खनिज धातुओं से समृद्ध है। इसलिए खदानों में काम कर रहे मजदूरों को जोड़कर श्रमिक कल्याण योजनाओं का लाभ उन्हें दिलाना होगा। बैठक में बीकानेर संभाग में पोटाश मिनरल की माइनिंग राजस्थान स्टेट माइंस एंड मिनरल्स लिमिटेड को मिलने पर प्रसन्नता जताई गई तथा प्रदेशाध्यक्ष राकेश ओझा ने बताया कि राजस्थान में पोटाश का खनन प्रारंभ होने से इस पर आधारित की उद्योग बीकानेर क्षेत्र में लगेंगे जिससे सैंकड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा तथा प्रदेश में आर्थिक समृद्धि आयेगी। बैठक को भारतीय मजदूर संघ राजस्थान प्रदेश महामंत्री दीनानाथ रुंथला, अमर सिंह सांखला, भवानी सिंह शक्तावत, भगवती मेनारिया तथा मनीषा मेघवाल ने संबोधित किया। 


इससे पहले राष्ट्रीय कार्यसमिति में पधारें मजदूर प्रतिनिधियों का स्वागत अभिनंदन राजस्थान स्टेट माइंस एंड मिनरल्स कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष राकेश ओझा, महामंत्री प्रमोद कुन्द्रा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष चेतन चौधरी गोटन, कोषाध्यक्ष जितेन्द्र गिरी, झामरकोटड़ा इकाई महामंत्री हिम्मत राम माली तथा धर्मेंद्र पुरी ने मेवाड़ी पाग, केसरिया दुपट्टा तथा बुके देकर किया गया। दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक में राजस्थान के अलावा गुजरात, महाराष्ट्र, विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, उत्तर प्रदेश, ओडिशा तथा बिहार राज्यों से मजदूर संघ प्रतिनिधिगण उपस्थित हुए। बैठक के समापन समारोह में राष्ट्रीय अध्यक्ष हरिमोहन चांडक ने दो दिवसीय आयोजन व्यवस्था के लिए आरएसएमएम कर्मचारी संघ का तथा उपस्थित श्रमिक प्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया।



Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन