गोविन्द सिंह डोटासरा ने पूरे प्रदेश के शिक्षकों का किया अपमान - डाॅ. सतीश पूनियां

गोविन्द सिंह डोटासरा ने पूरे प्रदेश के शिक्षकों का किया अपमान - डाॅ. सतीश पूनियां 





कांग्रेस नेताओं को बाड़े और बाड़ेबंदी पसंद है, इसलिए शिक्षा मंत्री खुद के घर को ‘‘नाथी का बाड़ा’’ बता रहे हैं: डाॅ. पूनियां 


जयपुर, 10 अप्रैल। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने बयान जारी कर लेक्चरर के साथ अमर्यादित व्यवहार के मामले में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा पर निशाना साधा है। उन्होंने डोटासरा द्वारा शिक्षकों के साथ अमर्यादित भाषा एवं व्यवहार की कड़ी निंदा की है और कहा कि डोटासरा ने पूरे प्रदेश के शिक्षकों का अपमान किया है। 

डाॅ. पूनियां ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लेकर इनके मंत्रियों के बयानों एवं व्यवहार में सुजानगढ़, सहाड़ा और राजसमंद उपचुनावों में कांग्रेस की होने वाली बड़ी हार की बौखलाहट दिख रही है, ये सरकार सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर रही है, लेकिन कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम, जनता के आशीर्वाद एवं मोदी सरकार की कल्याणकारी नीतियों से भाजपा तीनों सीटें जीतेगी। 

डाॅ. पूनियां ने कहा कि राजनेताओं के द्वार आम जनता की पीड़ा सुनने के लिए होते हैं, पर शायद कांग्रेस नेताओं को बाड़े और बाड़ेबंदी पसंद है, इसलिए शिक्षा मंत्री खुद के घर को ‘‘नाथी का बाड़ा’’ बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि इधर असम के कट्टरपंथियों की बाडेबंदी कर खिदमद की जा रही है और घर पधारे शिक्षकों को बेइज्जत कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि गोविन्द सिंह डोटासरा ने अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन देने आवास पर पधारे स्कूल लेक्चरर के साथ अमर्यादित व्यवहार करते हुए कहा था कि यहाँ तुम्हें किसने बुलाया, मेरे घर को नाथी का बाड़ा समझा है क्या? 




Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन