पुलिस ने रुठे प्रेमी जोड़े को मिलवाया, फिर थाना परिसर में ही करवाई शादी

पुलिस ने रुठे प्रेमी जोड़े को मिलवाया, 

फिर थाना परिसर में ही करवाई शादी


कोटा में ना बैंड ना बाजा, पुलिस ने रुठे प्रेमी जोड़े को थाने में मिलवाया, फिर चंद मिनटों में हुई शादी


कोटा। हाड़ौती संभाग के कोटा जिले की रामगंजमंडी में लॉकडाउन में बेहद सुखद नजारा देखने को मिला है. यहां पुलिस ने अनोखी पहल करते हुए न केवल रूठे प्रेमी युगल को आपस में मिलाया बल्कि थाना परिसर में ही उनकी शादी करवाकर आशीर्वाद भी दिया. उसके बाद दंपति बना प्रेमी-युगल जोड़ा मोटरसाइकिल पर बैठकर विदा हो गया. यहां बिना बैंड और बिना बाराती के प्रेमी युगल ने थाने में एक दूसरे के गले में वरमाला डाली। 

जानकारी के अनुसार रामगंजमंडी के मारुति नगर निवासी 22 वर्षीय युवती व मोतीलाल आपस में प्रेम करते थे। लेकिन इन दिनों दोनों में मतभेद के चलते युवती ने प्रेमी के खिलाफ थाने में शिकायत की। इस पर पुलिस ने उसकी शिकायत दर्ज नहीं करके समझाइश से मामला निपटाने का आश्वासन दिया। 

पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाया
पुलिस ने सोमवार को प्रेमी युवक और दोनों के परिजनों को थाने बुलाया. दोनों पक्षों में आपसी समझाइस के बाद थाना परिसर में ही स्थित मंदिर के सामने प्रेमी प्रेमिका को मिलवा दिया. दोनों ने मंदिर के सामने साथ-साथ जीने-मरने की कसमें खाकर शादी कर ली. प्रेमी युगल जोड़े ने शादी के बाद सीआई हरीश भारती व अपने परिजनों का आशीर्वाद लिया और थाना परिसर से रवाना हो गए। 

चंद मिनटों में ही थाने में हुई शादी

इस दौरान मौके पर मौजूद एक पत्रकार ने पंडित की भूमिका निभाई और चंद मिनटों में विवाह संपन्न करवा दिया. शादी के समय दोनों का परिवार वहीं मौजूद रहा. पुलिस स्टाफ ने युगल प्रेमी जोड़े को विवाह बंधन में बंधने पर शुभकामनाएं दी। उल्लेखनीय है कि बहुत सी बार ऐसे मामलों में पुलिस की भूमिका बड़ी नकारात्मक रहती है. लेकिन कोटा में पुलिस ने इस धारणा को तोड़कर एक नई मिसाल कायम की है। कोटा पुलिस का यह कदम इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है. यह सोशल मीडिया में भी यह मामला छाया हुआ है। (news18.com)

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ