एसडीएम ने बोगस ग्राहक बनकर की कार्रवाई।

  अवैध ब्रांच खोलकर बेची जा रही थी शराब।


 एसडीएम ने बोगस ग्राहक बनकर की कार्रवाई।


 अवैध शराब के जखीरे के साथ एक को पकड़ा


 दो फरार आरोपियों की तलाश जारी।



नीमकाथाना। गांवडी में शराब की अवैध ब्रांच में शो-रूम की तरह सजाकर बेची जा रही शराब के मामले में एसडीएम बृजेश कुमार ने बोगस ग्राहक बनकर मामले का खुलासा किया। टीम में शामिल सदर सीआई कस्तुर निशांत ने अवैध शराब के जखीरे सहित एक आरोपी को पकड़ा है। कार्रवाई के दौरान दो आरोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने करीब 80 हजार रूपएं की अवैध शराब के साथ गांवडी की ढ़ाणी टीबावाली निवासी विक्रम सैनी पुत्र मदनलाल को गिरफ्तार किया है। गांवडी में अवैध ब्रांच खोलकर शराब बिक्री के मामले में लगातार शिकायतें मिल रही थी।  मामला सामने आने पर कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम बृजेश कुमार ने कार्रवाई कर मामले का खुलासा किया। गांवडी में शराब का अवैध शो-रूम सजाकर धडल्ले से शराब बेची जा रही थी। दो-तीन जगहों पर अवैध ब्रांच खोलने के मामले में ग्रामीण लगातार शिकायतें कर रहे थे। एसडीएम बृजेश कुमार खुद बोगस ग्राहक बनकर शराब की अवैध ब्रांच पर गए। दुकान पर बैठे युवक से बीयर व शराब मांगी। एक कार्टन बीयर खरीदने के बाद महंगी शराब की डिमांड की। जिसमें दुकान पर बैठे युवक को कुछ समय लग गया। इसी दौरान टीम में शामिल तहसीलदार सत्यवीर यादव व सदर सीआई कस्तुर निशांत पुलिस जवानों के साथ पहुंच गए। दुकान में सजा रखी गई अवैध शराब व कार्टनों को पुलिस ने जब्त किया है। सीआई कस्तुर निशांत ने बताया कि कार्रवाई में 129 पव्वे प्रीमियम रिवाइड आरेंज, 50 पव्वे इनपेक्ट ब्ल्यू, 42 पव्वे रॉयल थ्री एक्स रम, 27 बोतल बीयर ट्यूबलेट, 32 बोतल बीयर किंगफीसर, 12 बोतल ग्रीन बीयर, 12 पव्वे धुंधरू देशी शराब, 113 पव्वे देशी मदीरा, 79 पव्वे सादा देशी शराब, 26 पव्वे आरसी रॉयल ग्रीन सहित अलग-अलग ब्रांड की शराब के कार्टन मिले हैं। इनकी बाजार कीमत करीब 80 हजार रूपएं है। पुलिस ने आबकारी अधिनियम में मामला दर्ज कर फरार दो आरोपियों की तलाश शुरू की है।



अवैध ब्रांच खोलकर धडल्ले से बेची जा रही है शराब: कोविड-19 संक्रमण के दौर में पाबंदियों के बावजूद भी शराब माफिया इलाके में अवैध ब्रांच खोलकर धडल्ले से शराब बिक्री कर रहे हैं। शराब ठेकों की आड में कई अवैध ब्रांचे संचालित हो रही है। जिन पर 24 घंटें शराब बेची जाती है। शिकायतों के बाद भी आबकारी विभाग द्वारा कार्रवाई नहीं हो रही थी। गांवडी, बोपिया, हसामपुर, छाजाकीनांगल, नीमकाथाना बाइपास सहित कई गांवों में अवैध शराब की बिक्री को लेकर ग्रामीण शिकायतें कर रहे हैं। इन अवैध ब्रांचों पर बड़े-बड़े काउंटर व फ्रिज लगाकर शराब बेची जाती हैं। कई जगह दुकानों के सहारे शराबियों के लिए बैठकर शराब पीने के प्रबंध भी किए हुए हैं। यहां बड़ी संख्या में शराब की खाली बोतले भी जमा हैं।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को