दो माह के बच्चे को डेढ़ लाख में बेचा

दो माह के बच्चे को डेढ़ लाख में बेचा 

पिता को रुपये के बदले मिली दर्दनाक मौत 

2 माह के मासूम को डेढ़ लाख में बेचने वाले पिता को रुपये के बदले मिली दर्दनाक मौत, जानिए पूरा मामला


मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में थाना मझौला क्षेत्र में रहने वाला इरशाद 6 मई को लापता हो गया था. परिजनों की तहरीर पर थाना मझौला पुलिस ने इरशाद की गुमशुदगी दर्ज कर तलाश शुरू कर दी थी. 11 मई को मुरादाबाद के डिलारी थाना इलाके में सड़क किनारे क्षत-विक्षत हालत में एक शव मिला. पुलिस ने जनपद में दर्ज गुमशुदा लोगों के हुलिये से जब शव का मिलान किया तो पता चला कि ये गुमशुदा इरशाद का शव है. पोस्टमार्टम में इरशाद की गला घोंटकर हत्या करने की बात सामने आई. हत्यारों ने हत्या करने के बाद शव को जंगलों में फेंक दिया था. अब पुलिस ने इस हत्या का सनसनीखेज ख़ुलासा करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

मामले में पुलिस ने बताया कि हत्या में शामिल मुमताज़ और उसके भाई मुस्तफा की तलाश है. पकड़े गये एक हत्या आरोपी फ़हीम ने पुलिस को जानकारी दी कि इरशाद ने अपने दो महीने के मासूम बेटे को मुमताज़ उर्फ पतली नाम की महिला को डेढ़ लाख रुपए में बेच दिया था. इरशाद और मुमताज़ के बीच ये सौदा जेल में रहने के दौरान तारीख़ पर अदालत जाते वक्त रास्ते मे तय हुआ था. इरशाद और मुमताज़ दोनों ही शातिर अपराधी थे और जेल में बंद थे. जेल से बाहर आने के बाद इरशाद मुमताज़ से डेढ़ लाख रुपये लेने गया था, जहां मुमताज़ ने अपने भाई और उसके दोस्त के साथ मिलकर पहले इरशाद के साथ शराब पी, फ़िर बाद में उसकी हत्या कर शव को जंगल मे फेंक दिया। 

11 मई को जंगल से बरामद हुआ शव
11 मई को डिलारी थाने क्षेत्र के काजीपुरा के जंगल में एक युवक के शव पड़े होने की सूचना पुलिस को मिली थी. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. मृतक युवक की पहचान मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र के जयंतीपुर के रहने वाले इरशाद के रूप में हुई थी. मझौला थाने में मृतक इरशाद की पत्नी आसिया की तरफ से गुमशुदगी भी दर्ज कराई गई थी। 

डिलारी पुलिस ने इस मामले में फहीम नाम के शख्स को हिरसत में लेकर जब पूछताछ की तो सच्चाई सामने आई. फ़हीम ने पुलिस को बताया कि उसके दोस्त मुस्तफ़ा और मुस्तफ़ा की बहन मुमताज उर्फ पतली ने ही इरशाद की शराब पिलाने के बाद हत्या की है. हत्या का जो कारण सामने आया है वो हैरान करने वाला है. इरशाद अपनी पत्नी आसिया के साथ 2019 में चोरी के एक मामले में मुरादाबाद जेल में बंद थे. जेल में इरशाद और आसिया का दो महीने का बेटा शानू भी साथ था. दोनों की मुलाकात जेल में ही डकैती के आरोप में बंद मुमताज़ नाम की महिला से हो गई। 

जेल में हुआ बच्चे का सौदा

इन शातिर अपराधियों की मुलाक़ात जल्द ही दोस्ती में बदल गई. मुमताज़ उर्फ पतली को इरशाद और आसिया का पुत्र शानू पसंद आ गया. मुमताज़ ने इरशाद के बेटे शानू को गोद लेने की इच्छा जाहिर की  और बदले में जेल से बाहर निकलने पर डेढ़ लाख रुपए देने का वादा किया. जेल में रहने के दौरान शानू को मुमताज़ ने ही पालना शुरू कर दिया. इरशाद और आसिया ने मुमताज़ की ऑफर क़बूल कर ली थी। 

पहले मुमताज़ ज़मानत पर बाहर निकल गई और शानू को अपने साथ ले गई. मार्च 2021 में जेल से ज़मानत होने पर इरशाद और आसिया जेल से बाहर आये. इरशाद ने मुमताज़ से जेल में हुये सौदे के मुताबिक़ बेटे शानू के सौदे के वक़्त तय हुए डेढ़ लाख रुपए मांगे. जिसे मुमताज़ ने कुछ दिन में देने का वादा किया. बार-बार तकादा करने पर 6 मई को मुमताज़ ने फ़हीम से डेढ़ लाख रुपये देने के बहाने कॉल कर इरशाद को बुला लिया। 

हत्याकर शव तालाब में फेंका, फिर कुछ दिन बाद जंगल में डाला

यहां मुमताज़ ने अपने भाई मुस्तफा और उसके दोस्त फहीम के साथ मिलकर पहले इरशाद को शराब पिलाई. फिर जंगल मे ले जाकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. शव तालाब में फेंककर अपने घर आ गये. 10 मई की रात को तालाब से शव निकालकर जंगल मे डाल दिया ताकि जंगली जानवर शव को खा जायें. लेकिन उससे पहले ही ग्रामीणों ने शव की सूचना पुलिस को दे दी। 

इरशाद 6 मई को घर से मुमताज़ के पास जाने की बात पत्नी आसिया से कहकर निकला था. दो,दिन तक घर वापस नही लौटने पर पत्नी आसिया ने थाना मझौला में पति इर्शाद की गुमशुदगी दर्ज कराई. 11 मई को 112 पर पुलिस को सूचना मिली कि एक व्यक्ति का शव थाना डिलारी ईलाके के काजीपुरा जंगल में पड़ा है. पत्नी ने पुलिस को बताया कि उसने अपने पति के बारे में मुमताज़ से जब भी फोन पर बात की तो उसने हर बार उल्टा सीधा ही जवाब दिया था. पुलिस ने आसिया के इस बयान के बाद जांच का दायरा मुमताज के इर्द-गिर्द कसना शुरू कर दिया। 

पुलिस को मुमताज और मुस्तफा की तलाश

पुलिस अधिकारी अनूप सिंह के मुताबिक डिलारी पुलिस ने इसका सफल अनावरण करते हुए एक अभियुक्त फहीम को गिरफ्तार कर लिया है. फहीम के साथ मुमताज़ उर्फ पतली और उसका भाई मुस्तफा मुख्य अभियुक्त हैं. शीघ्र ही मुमताज ओर मुस्तफा की गिरफ्तारी की जाएगी। (news18.com)

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ