एसपी के स्टिंग ऑपरेशन में दरोगा सहित पांच पुलिस कर्मी नपे

एसपी के स्टिंग ऑपरेशन में दरोगा सहित पांच पुलिस कर्मी नपे 


राजस्थान से यूपी सीमा में प्रवेश कराने हेतु 

अवैध रेत की गाड़ियों के लिए एसपी से ली रिश्वत 


आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में अवैध खनन और ओवरलोड वाहनों से वसूली रोकने को एसपी पूर्वी के वैंकट अशोक ने नया प्रयोग किया। प्राइवेट गाड़ी से सादा कपड़े पहनकर वे खनन माफिया के शागिर्द बनकर हकीकत जानने रविवार तड़के क्षेत्र में निकल लिए। राजस्थान सीमा से ओवरलोड ट्रक को एंट्री दिलाने के नाम पर उन्होंने सिपाहियों से रुपये देने की पेशकश की।
सिपाही तुरंत तैयार हो गए और रुपये ले भी लिए। फिर क्या था एसपी पूर्वी ने थाना प्रभारी और ड्यूटी पर मौजूद पांच सिपाहियों की रिपोर्ट एसएसपी को दे दी। इसके बाद एसएसपी मुनिराज ने सभी को निलंबित कर दिया। इस कार्रवाई से खलबली मच गई है।
एसपी पूर्वी वैंकट अशोक रविवार तड़के चार बजे एक प्राइवेट कार से उटंगन नदी पर पहुंचे। वहां शमसााबाद थाने में तैनात कांस्टेबल सुनील कुमार, वेद प्रकाश, सोनू राविश, विनय कुमार और संजय कुमार की ड्यूटी थी। इनको राजस्थान सीमा से होने वाले अवैध खनन को रोकने के लिए ड्यूटी पर लगाया गया था।
पिछले दिनों अवैध खनन पर अंकुश के लिए थाना प्रभारी प्रदीप कुमार ने यहां सीसीटीवी कैमरे भी लगवाए थे। मगर, वहां ड्यूटी पर तैनात सिपाही अंकुश लगाने के बजाय उगाही में लगे थे। एसपी पूर्वी के वैंकट अशोक वहां पहुंचे। उन्होंने गाड़ी से उतरकर सिपाहियों से कहा कि उनके कुछ ओवरलोड ट्रक राजस्थान की ओर से आ रहे हैं। उनको निकलवा दो।
इसके एवज में एसपी पूर्वी की ओर से सिपाहियों को तीन हजार से अधिक रुपये दिए गए। सिपाहियों ने रुपये ले लिए। इसके बाद एसपी ने इसकी रिपोर्ट एसएसपी को दे दी। एसएसपी मुनिराज ने थाना प्रभारी शमसाबाद प्रदीप कुमार और ड्यूटी पर तैनात पांचों सिपाहियों की संलिप्तता मानते हुए सभी को निलंबित कर दिया। उन्होंने विभागीय जांच भी शुरू करा दी है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को