लखनऊ से हैरान कर देने वाली खबर

         लखनऊ से हैरान कर देने वाली खबर



उधोगपति के बेटे ने सात लाख रुपए में  बुलाई काॅलगर्ल, हुई मौत

             मृत थाईलैंड की युवती का पासपोर्ट

लोहिया अस्पताल में कराया गया था भर्ती, 

पुलिस ने करवाया अंतिम संस्कार

थाईलैंड एंबेसी को पुलिस की ओर से दी गई सूचना

लखनऊ। कोरोना महामारी के बीच यूपी की राजधानी लखनऊ से हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है, यहां थाईलैंड से आई एक कॉल गर्ल की कोरोना से मौत हो गई। एक ओर कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु लखनऊ में लाॅकडाउन (आंशिक कोरोना कर्फ्यू) लगा हुआ है। इस कालगर्ल को लखनऊ के एक बड़े व्यापारी के बेटे ने सात लाख रुपए में बुलाया था। थाईलैंड की इस युवती का  लखनऊ पुलिस ने अंतिम संस्कार करवाने के साथ ही थाईलैंड एंबेसी को इसकी‌ सूचना दे दी  है।
लखनऊ पुलिस ने इस मामले की जांच की तो एक के बाद एक चौंकाने वाले कई खुलासे हुए। मालूम चला है कि इस कॉलगर्ल को 10 दिन पहले ही लखनऊ के एक टॉप व्यापारी के बेटे ने 7 लाख रुपए खर्च करके थाईलैंड से बुलाया था।लखनऊ आने के 2 दिन बाद ही वह बीमार पड़ गई तो उसे लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 3 मई को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पहले थाईलैंड एंबेसी में संपर्क करके उसके परिजनों को डेड बॉडी हैंडओवर करने की कोशिश की, लेकिन जब ऐसा नहीं हो पाया तो शनिवार को एजेंट सलमान की मौजूदगी में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। बताया जा रहा है कि सलमान नामक इसी एजेंट के सहारे थाईलैंड की ये युवती भारत आई थी।
राजस्थान से जुड़े काॅलगर्ल मामले के तार…..
कॉलगर्ल की मौत के बाद पुलिस अब राजधानी में पांव पसार रहे इंटरनेशनल सेक्स रैकेट के बारे में पता करने में जुट गई है। पुलिस का कहना है कि ये भी ट्रेस किया जा रहा है कि इस कॉल गर्ल के संपर्क में और कौन-कौन आया है। ये कॉलगर्ल राजस्थान के रहने वाले एक ट्रैवेल एजेंट के संपर्क में थी, उसी ने इसे लखनऊ भेजा था। पुलिस की जांच में सामने आया है कि व्यापारी के बेटे ने कॉलगर्ल की तबियत बिगड़ने पर खुद थाईलैंड एंबेसी को फोन करके इसकी जानकारी दी थी। इसके बाद एंबेसी ने भारत के विदेश मंत्रालय की मदद से उसे अस्पताल में भर्ती कराया था।
इंटरनेशनल सेक्स रैकेट की जांच में जुटी पुलिस…
फिलहाल पुलिस ने अभी व्यापारी बेटे की जानकारी सार्वजनिक नहीं की है, गोमतीनगर के विभूतिखंड थाना क्षेत्र का मामला बताया जा रहा है। 4 मई को थाईलैंड दूतावास ने मृतका के भाई से संपर्क कर भारत में गाइड सलमान नाम के युवक की देखरेख में अंतिम संस्कार कराए जाने की जानकारी दी। चोरी से ही व्यापारी के बेटे ने भारत स्थित थाईलैंड एंबेसी से संपर्क कर घटना कि जानकारी दी। जिसके बाद थाईलैंड एंबेसी ने प्रशासन के सहयोग से लड़की का अंतिम संस्कार कराया। 

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ