वैक्‍सीन लगवाने के बाद शरीर बन गया चुंबक, बुजुर्ग का दावा

 वैक्‍सीन लगवाने के बाद शरीर 

बन गया चुंबक, बुजुर्ग का दावा 


नासिक के बुजुर्ग का दावा, कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के बाद शरीर बन गया चुंबक

नासिक। महाराष्‍ट्र के नासिक के एक बुजुर्ग ने दावा किया है कि कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने के बाद उनके शरीर में चुंबकीय शक्ति पैदा हो गई है. उन्‍होंने दावा किया है कि जब से उन्‍होंने वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है तब से उनके शरीर में स्‍टील के बर्तन चिपक रहे हैं. सोशल मीडिया पर बुजुर्ग का जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें देखा जा सकता है कि लोहे की तरह ही उनके शरीर में स्‍टील के बर्तन भी चिपक जाते हैं. इस अजीबोगरीब मामले के सामने आने के बाद डॉक्‍टर भी इसकी जांच में जुट गए हैं। 

नासिक के अरविंद जगन्नाथ सोनार (71) ने कुछ दिन पहले ही कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है. बुजुर्ग अरविंद ने दावा किया है कि जब से उन्‍होंने कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है तब से उनके शरीर में चुंबकीय शक्ति आ गई है. नासिक के शिवाजी चौक में रहने वाले अरविंद जगन्‍नाथ ने अपनी बात को साबित करने के लिए एक वीडियो भी बनाया है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. इस वीडियो में अरविंद के शरीर में चम्मच, छोटी प्लेट और घर में इस्तेमाल की जाने वाले वाले बर्तन चिपके हुए दिखाई पड़ते हैं। 

अरविंद जगन्‍नाथ ने बताया कि जब पहली बार ऐसा हुआ तो लगा शायद पसीने की वजह से बर्तन शरीर से चिपक रहे हैं. इसके बाद मैं नहा लिया. लेकिन जब उन्‍होंने फिर बर्तन को शरीर पर रखा तो वह चिपक गया। 
डॉक्टरों के लिए इस तरह का ये पहला मामला है

अरविंद जगन्‍नाथ ने दावा किया है कि कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने के बाद ही उनके अंदर बदलाव आया है। ऐसे में डॉक्‍टरों के लिए ये एक पहेली बन गया है. डॉक्‍टर अशोक थोरात ने कहा कि ये एक शोध का विषय है. अरविंद जगन्‍नाथ के शरीर में स्‍टील क्‍यों चिपक रही है इसके बारे में अभी हम कुछ नहीं कह सकते. हम पूरी जांच के बाद में ही किसी निष्कर्ष पर पहुंच सकेंगे. फिलहाल इस पूरे मामले की रिपोर्ट महाराष्‍ट्र सरकार को सौंपी जाएगी. सरकार के आदेशानुसार ही किसी निष्‍कर्ष पर पहुंचा जा सकेगा। (news18.com)

Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ