हनीट्रेप मामले में दो महिलाओं सहित चार को किया गिरफ्तार

हनीट्रेप मामले में दो महिलाओं सहित चार को किया गिरफ्तार 



गिरोह द्वारा 10 लाख रूपये की जा रही थी माँग 


करौली / मदन मोहन भास्कर। हनीट्रेप गिरोह का मुख्य सरगना व दो महिलाओं सहित, चार को किया करौली जिला पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया।

 पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि थाना कोतवाली पुलिस, करौली यातायात प्रभारी व जिला स्पेशल टीम ने संयुक्त रूप से कार्यवाही कर हनीट्रेप गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गिरोह के मुख्य सरगना प्रकाश मीना पुत्र कजोडया निवासी गैरई थाना सपोटरा, रम्मूलाल मीना पुत्र मूलाराम निवासी नांगल सुल्तानपुर थाना बालघाट व गिरोह में शामिल दो महिलाओं को गिरफ्तार करने में सफलता हांसिल की है। 


घटना का विवरण-

   रविवार को परिवादी द्वारा पुलिस थाना कोतवाली करौली पर आरोपी प्रकाश मीना, रम्मू मीना तथा दो महिलओं द्वारा हनीट्रेप के मामले में फँसाकर वीडियो वायरल करने व बलात्कार का प्रकरण दर्ज कराने की धमकी देकर 10 लाख रूपये की मांग करने का प्रकरण पंजीबद्व कराया गया।

पुलिस अधीक्षक द्वारा मामला संज्ञान में आने पर घटना की गम्भीरता को देखते हुए स्वयं के सुपरवीजन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश चन्द के नेतृत्व में रामेश्वर दयाल मीना पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी कोतवाली करौली,यातायात प्रभारी टीनू सोगवाल उप निरीक्षक, जिला स्पेशल टीम के रविन्द्रसिंह हैड कांस्टेबल एवं चुनिन्दा पुलिसकर्मियों की टीम का गठन कर आरोपियों की शीघ्रातिशीघ्र गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किये गये। 


टीम द्वारा किये गये प्रयास


 जिला मुख्यालय पर हनीट्रेप का मामला सामने आने पर गठित टीम के सदस्यों द्वारा आरोपीगणों द्वारा की जा रही 10 लाख रूपये की मांग का सत्यापन किया गया तथा गठित टीम के सदस्यों द्वारा जाल बिछाकर पीडित व्यक्ति को आरोपियों द्वारा बताये गये स्थान पर पैसे देने के लिए भेजा गया। जहाँ पर पहले से जाल बिछाकर बैठी पुलिस टीम के सदस्यों द्वारा मुख्य आरोपी सहित अन्य आरोपीगणों को दबोच लिया गया।  


आरोपियों द्वारा वारदात को स्वीकार करना

 

गिरोह के मुख्य सरगना प्रकाश मीना व मुख्य सहयोगी महिला ने पूछताछ पर बताया कि हमें हाई प्रोफाईल जिन्दगी जीने तथा महँगे शौंक पूरे करने के लिए पैसों की आवश्यकता थी। हमारे पास कोई रोजगार उपलब्ध नहीं होने के कारण हमारे शौक पूरे नहीं हो रहे थे। जिस पर हम दोनों ने मिलकर ऐसी योेजना बनाई कि जल्द से जल्द हमारे पास पैसे आ जाये और हमने षडयंत्र रचा कि किसी पैसे वाले लोगों को फँसाकर पैसे कमाये जाये। प्रकाश ने अपने दोस्त को इस षडयंत्र में फसा लिया था, उसका वीडियों वायरल करने तथा बलात्कार का प्रकरण दर्ज कराने की धमकी देकर 10 लाख रूपये की मांग की गई।

  

 उक्त गिरोह द्वारा अन्य लोगों को हनीट्रेप का शिकार बनाये जाने के बारे में गहनता से अनुसंधान किया जा रहा है। 


आरोपियों को पकड़ने वाली टीम


 रामेश्वर दयाल पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी थाना कोतवाली करौली,टीनू सोगरवाल उप निरीक्षक प्रभारी यातायात करौली,रविन्द्रसिंह हैड कांस्टेबल जिला स्पेशल टीम,सतेन्द्र कांस्टेबल,सुग्रीव कांस्टेबल,रघुवीर कांस्टेबल,नरेन्द्र सिंह कांस्टेबल,गजेन्द्रसिंह कांस्टेबल,निर्मला पाराशर महिला कांस्टेबल यातायात करौली,अभय कुमार कांस्टेबल चालक आदि शामिल रहे।


हनीट्रेप के मामले के पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम के सदस्यों को पुलिस अधीक्षक करौली द्वारा नगद ईनाम व प्रशंसा-पत्र से पुरुस्कृत किया जायेगा।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ