Wsso में हुकुम चन्द्र वर्मा को लगाया

 Wsso में हुकुम चन्द्र वर्मा को लगाया निदेशक 



जयपुर ।राजस्थान के जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग (PHED) के WSSO पोस्टिंग के विवाद के बाद अब अतिरिक्त मुख्य अभियंता हुकमचंद वर्मा को लगाया है। विभाग में WSSO के निदेशक का तीन महीने से अतिरिक्त चार्ज संभाल रहे अतिरिक्त मुख्य अभियंता मनीष बेनीवाल के ‘पर’ कतरते हुए हटा दिया है। अब बेनीवाल केवल जयपुर रीजन के एडिशनल चीफ इंजीनियर ही रह गए है। सूत्रों का कहना है कि विभाग के आईएएस सुधांश पंत ने अब अतिरिक्त मुख्य अभियंता मनीष बेनीवाल से दूरी बनाना शुरु कर दिया है। बेनीवाल पर मीडिया मैनेजमेंट की जिम्मेदारी थी, लेकिन उस में बेनीवाल फेल साबित हुए।

अतिरिक्त मुख्य अभियंता अमिताभ शर्मा को अब स्पेशल प्रोजेक्ट के चीफ इंजीनियर कार्यालय में लगाया है और यहां लगे भगवान सहाय मीना को ड्रिलिंग विंग में भेज दिया। विभाग ने तीन एडिशनल चीफ इंजीनियरों का तबादला आदेश जारी किया है।
अतिरिक्त मुख्य अभियंता अमिताभ के बीमार होते ही पावर गेम :
जल जीवन मिशन में लोगों को जागरूक करने और मीडिया में विज्ञापन देने के लिए यहां पर सैकड़ों करोड़ों का काम है। बीते साल कोरोनाकाल से पहले WSSO का डायरेक्टर अमिताभ शर्मा को लगाया। अमिताभ शर्मा मुख्यमंत्री से सचिव रहे आईएएस अजिताभ शर्मा के भाई है। WSSO के डायरेक्टर व अतिरिक्त मुख्य अभियंता अमिताभ शर्मा को अप्रेल के अंतिम सप्ताह में कोरोना हो गया था। विभाग केविभाग के उप सचिव राजेंद्र शेखर मक्कड़ ने 29 अप्रेल को आदेश जारी कर WSSO के डायरेक्टर का अतिरिक्त चार्ज अतिरिक्त मुख्य अभियंता मनीष बेनीवाल को दे दिया। जबकि हैडक्वार्टर में कई अतिरिक्त मुख्य अभियंता बिना काम के बैठे है। स्वास्थ्य लाभ के बाद अतिरिक्त मुख्य अभियंता अमिताभ शर्मा काम पर लौट आए, लेकिन उन्हे WSSO के डायरेक्टर पर जॉइंन करवाने से इंकार कर दिया। मुख्यमंत्री के सचिव रहे और वरिष्ठ IAS अजिताभ शर्मा के भाई अमिताभ शर्मा को WSSO के डायरेक्टर पर पर जॉइंन नहीं करने देना बड़े आश्चर्यजनक है।
पीएचइडी में एसीएस सुधांश पंत की छवि साफ सुथरी मानी जाती है, लेकिन विभाग के उप सचिव राजेंद्र शेखर मक्कड़ ने 27 मई को आदेश जारी कर WSSO के डायरेक्टर का अतिरिक्त चार्ज अतिरिक्त मुख्य अभियंता मनीष बेनीवाल को देने का दुबारा आदेश निकाल दिया।
मीडिया की नजर में WSSO का हर घोटाला माफ:
पीएचइडी के WSSO में मीडिया मैनेजमेंट और एनजीओ को काम देने का खेल होता है। जनता व नेताओं की नजरों से दूर इस संस्था में करोड़ों रुपए के काम बिना टेंडर या गुप्त टेंडर के बांट दिया जाता है। ब्यूरोक्रेसी के एक वर्ग की इस WSSO पर लंबे समय से नजर है। इस पोस्टिंग पर मीडिया को सेट करने की जिम्मेदारी होती है। विज्ञापन देने के एवज में विभाग के खिलाफ खबरे रोकने का ठेका भी होता है। यहां लगने वाला अफसर कितनी भी गड़बड़ करे, लेकिन घोटाले के हजार खून माफ है।
पिछले कार्यकाल में यहां पीएचइडी के प्रमुख सचिव आईएएस संदीप वर्मा के खास अधीक्षण अभियंता अरूण श्रीवास्तव को पोस्टिगं व अतिरिक्त काम दिया गया था। आईएएस वर्मा के हटते ही यहां पर आईएएस अजिताभ शर्मा के भाई अधीक्षण अभियंता अमिताभ शर्मा की पोस्टिंग हो गई। अमिताभ पर भी काम धीमी गति से करने का आरोप है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ