ब्लाइन्ड मर्डर का खुलासा

 ब्लाइन्ड मर्डर का खुलासा

दम्पत्ति सहित 03 गिरफ्तार

महिला के मृतक से अवैध सम्बन्ध थे

बड़ी रकम के लालच में पति व उसके दोस्त ने कर दी हत्या

उदयपुर 24 अगस्त। थाना सराडा क्षेत्र के धराल माता पहाड के जंगल मे मिली अधेड़ की हत्या के ब्लाइंड मामले का खुलासा कर थाना पुलिस ने दम्पत्ति समेत तीन जनों को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक के साथ गिरफ्तार महिला के अवैध सम्बन्ध थे। जिसने मृतक के पास 13-14 लाख रुपये होने की जानकारी मिलने पर पति व उसके दोस्त के साथ मिलकर हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया। 

     उदयपुर एसपी राजीव पचार ने बताया कि भुत पुर्व सरपंच ग्राम पंचायत नठारा फुल शंकर ने एक रिपोर्ट पेश की कि 16 अगस्त के दिन उन्हें धराल माता के जंगल मे एक अज्ञात व्‍य‍क्ति की लाश पडी हुई मिली। सूचना पर थाना सराडा पुलिस मौके पर पहुंची। लाश करीब तीन-चार दिन पुरानी थी, मृतक की आयु करीब 55 वर्ष के करीब थी। इस पर मुकदमा दर्ज कर एएसपी शहर गोपाल स्वरूप मेवाडा व एएसपी ग्रामीण मुकेश कुमार सांखला के निकट निर्देशन एवं सीओ डुंगर सिंह के सुपरविजन तथा थानाधिकारी सराडा अनिल कुमार बिश्नोई  के नेतृत्व में टीम गठित की गई।

     गठित टीम ने ब्लाइंड मर्डर के इस मामले में घटनास्थल से मिले साक्ष्यों, तकनीकी सहायता, आसूचना एवं टीम के अथक भरसक प्रयासों से आरोपी दम्पत्ति नाथु लाल उर्फ नरेश पुत्र भीमराज व काली कुमारी उर्फ काजल निवासी जावरमाइन्स, उदयपुर को गांव सरू की पहाड़ियों के बीच एक झोपडी से तथा वारदात में शरीक सहयोगी दौलत राम पुत्र पुंजाजी निवासी सलुम्बर, उदयपुर को गिरफ्तार किया गया। जिन्होंने घटना को अंजाम देना स्वीकार किया। 

*हत्या का कारणः-*  घटना से करीब 8-9 माह पूर्व अभियुक्ता काली कुमारी उर्फ काजल की मृतक किशोर से बस स्टेण्ड उदीयापोल उदयपुर पर जान पहचान हुई ओर मोबाईल नम्बर का भी आदान प्रदान हुआ। बातों बातों में दोनों के बीच अवैध सम्बन्ध स्थापित हो गए। इस दौरान मृतक काली के कमरे पर आता जाता रहता तथा जरूरत पडने पर उसकी आर्थिक मदद भी कर देता। काली ने अपने पति नाथु लाल को भी किशोर के बारे में बता ओर आपस मे मिलवा भी दिया। एक दिन किशोर ने काली कुमारी को कहा उसके पास 13-14 लाख रूपये है, वह जसे काॅम्पलेक्स में एक कमरा दिलवा देगा। 

    मृतक किशोर केे पास 13-14 लाख रूपये होने तथा काॅम्पलेक्स में कमरा दिलाने की बाते काली कुमारी ने अपने पति नाथु लाल को भी बता दी। कुछ समय बाद दम्पत्ति ने मिलकर किशोर से उसके रूपये निकलवाने की योजना बनाई की अपने गांव के पास पहाडी पर स्थित धराल माता मन्दिर नठारा पर ले जाकर वहां पर उसको मार कर उसके एटीएम कार्ड को लेकर उससे रूपये निकाल लेंगे। नाथुलाल ने अपने दोस्त दौलत राम को बुलाया। 12 अगस्त को काली से फोन करा अगले दिन बुलाकर सुबह 5 बजे किशोर एवं काली कुमारी दोनो मोटरसाईकिल से रवाना हो गये। पीछे-पीछे नाथुलाल घर से मांस सब्जी कांटने वाले छुर्रा लेकर दौलत राम के साथ दूसरी बाईक से निकला। घटना स्थल पर पहुंच छुर्रा से किशोर के पीठ व पेट पर वार कर तीनों ने उसे पहाडी से नीचे धकेला एवं नीचे जाकर किशोर की लाश को छुपाने के लिऐ चेहरे पर पत्थर एवं झाडिया डाल दी। 

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को