अवैध संबंधों में रोड़ा बने पति पत्नि और प्रेमियों ने मिलकर की हत्या

अवैध संबंधों में रोड़ा बने पति 

पत्नि और  प्रेमियों ने मिलकर की हत्या



बाड़मेर 4 अगस्त। अवैध सम्बन्धो में रोड़ा बन रहे पति की हत्या उसकी पत्नी ने ही अपने दो प्रेमियों के साथ मिलकर की थी। दोनों प्रेमी महिला के रिश्तेदार भी है। बालोतरा थाना क्षेत्र में मूंदड़ा रोड हाईवे स्थित कामाक्षी कॉलेज के पास मिली अधेड़ व्यक्ति की हत्या का थाना पुलिस ने मात्र 24 घण्टों में खुलासा कर मृतक की पत्नी जरीना बानो (37) निवासी गेमनाशाह वली की दरगाह के पीछे, बालोतरा व उसके दो प्रेमियों अलाउदीन खाँ (21) निवासी गेमनााह वली की दरगाह के पीछे व बरकत खां (43) निवासी राखी, थाना समदड़ी जिला बाड़मेर को गिरफ्तार कर लिया।

        एसपी आनन्द शर्मा ने बताया कि  01 व 02 अगस्त की मध्य रात गेमना शाह वली की दरगाह के पीछे रहने वाले युसुब ख़ाँ (47) की लाश मूंदड़ा रोड हाईवे स्थित कामाक्षी कॉलेज के पास मिली थी। मृतक के पडौसी साबिर खान की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज कर एएसपी नितेश आर्य व सीओ धनफुल मीणा के निर्देशन में थानाधिकारी बालोतरा, पचपदरा व मण्डली के नेतृत्व में विशेष टीमे गठित की गई।  

        गठित टीम ने मामले का बारीकी से अनुसंधान किया गया। मुखबिरों से सम्पर्क कर मृतक युसुब के प्रतिदिन की दिन-चर्या व जान-पहचान के बारे में जानकारी की। घटना स्थल एवं उसके आस-पास जानकारी कर अलाउदीन खां की गतिविधि संदिग्ध लगने पर उसे दस्तयाब कर गहनता से पुछताछ की गई तो उसने घटना में शामिल मृतक की पत्नी व उसके दूसरे प्रेमी का नाम बताया। सूचना पर पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर पुरी वारदात एवं योजना का खुलासा कर दिया।

      मृतक युसुब खान अभियुक्त बरकत खान का मामा ससुर लगता है।

एक साल पहले बरकत खां मृतक युसुब के घर पर रहता था। युसुब को शराब की आदत थी, शराब के नशे में पत्नी व घरवालों से झगड़ा करता रहता था। उसी दौरान बरकत खां की जरीना बानों से नजदीकियां बढ गई। इस प्रेम-प्रसंग का पता चलने पर युसुब ने बरकत खां को 7-8 माह पूर्व घर से निकाल दिया। उसके बाद भी जरीना बानो व बरकत खां के बीच फोन पर बात होती रहती थी। बरकत खां भी जरिना बानो को घर खर्चे के रूपये पहुंचाता था। जरीना बानो के दुर के रिश्तेदार अलाउदीन खां को दोनों के अवैध संबंध की जानकारी लगने पर उसने भी जरीना बानों के साथ अवैध संबंध बना लिए।

    तीनों के द्वारा आज से 20-25 दिन पहले षड्यंत्र रचकर मृतक युसुब को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। 1 अगस्त को युसुब घर पर था। यह जानकारी मिलने पर अलाउदीन जयपुर से अपने ट्रक को छोड़कर बालोतरा आ गया। शाम को युसुब को शराब पिलाने व रूपये लाने का कह कर मोटरसाईकिल पर बैठा कर ले गया। रास्ते में दोनों ने शराब पी, युसुब को नशा हो जाने पर कामांक्षी कोलेज के पास सुनसान जगह पर ले जाकर पत्थर मार-मार कर हत्या कर दी और लाश घसीट कर साईड में पटक दी।

    मुलजिम अलाउदीन मृतक युसुब का मोबाईल अपने साथ ले गया था। हत्या के बाद घर जाकर मृतक की पत्नि जरीना बानों की सूचना देकर मृतक का मोबाईल उसे दे दिया। दूसरे दिन विश्वास दिलाने के लिए जरीना बानो व बरकत खां को लेकर अलाउदीन दुबारा घटना स्थल पर लेकर गया ओर मृतक युसुब की लाश दिखाई। उसके बाद जरीना ने थाने में पहुंच मृतक की गुमशुदगी दर्ज करवा पुलिस को काफी भटकाने की कोशिश की।

                         

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को