महिला कांस्टेबल को वेस्टिन रिजॉर्ट ले जाकर करवाई तस्दीक

महिला कांस्टेबल को वेस्टिन रिजॉर्ट ले जाकर करवाई तस्दीक


हीरालाल सैनी की मौजूदगी में  ब्यावर सरकारी आवास की भी बारीकी से जांच की, करवाई वीडियोग्राफी


सैनी का था इतना रौब कि ब्यावर की डिजायर पर सीएमओ में नहीं दिया जाता था ध्यान

अजमेर।(नवीन वैष्णव) छः साल के बच्चे के सामने स्विमिंग पूल में अश्लील हरकतें करने वाले डीएसपी हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल को एसओजी ने रिमांड पर ले रखा है । सोमवार को एसओजी के अधिकारी महिला कांस्टेबल को लेकर घटनास्थल पुष्कर के वेस्टिन रिजॉर्ट लेकर पहुंचे। जहां घटना की तस्दीक करवाई गई।

इससे पहले हीरालाल को लेकर ब्यावर स्थित सरकारी बंगले गए थे जहां पर हीरालाल की मौजूदगी में बारीकी से जांच की गई साथ ही इसकी वीडियोग्राफी भी करवाई गई। जांच अधिकारी एएसपी दिव्या मित्तल ने बताया कि सरकारी बंगले से एसओजी को तीन मोबाइल और कुछ पेन ड्राइव मिली है। जिसकी जांच करवाई जाएगी।

माना जा रहा है कि हीरालाल के  सरकारी आवास से बरामद मोबाइल और पेन ड्राइव से भी चौंकाने वाले खुलासे हो सकते हैं।

जब सैनी को लेकर पहुंचने की खबर मिली तो वकील व अन्य लोग भी एकत्रित हो गए और टीका टिप्पणी भी की गई। एसओजी ने पूर्व में भी एहतियात के तौर पर सभी वाहन सरकारी आवास में जाने के बाद गेट बंद करवा दिए साथ ही निकलते समय ही गेट खुले और सीधे ले जाया गया। 

जानकर बताते हैं कि सैनी का इतना रौब था कि सीएमओ में ब्यावर से आने वाली डिजायर पर कोई ध्यान नहीं दिया जाता था साथ ही पुलिस मुख्यालय से आने वाली लिस्ट में भी ब्यावर पर चर्चा नहीं करने के साफ निर्देश दिए जाते थे। सीएमओ के इसी अधिकारी ने ब्यावर लगाए गए आईपीएस का तबादला निरस्त करवाया था। इसके बाद से तो मानों हीरालाल के पांव जमीन पर ही नहीं पड़ रहे थे। बताते हैं कि सीएमओ का उक्त अधिकारी ब्यावर से संबंध रखने वाले नेताओं को इतना तक कह देता था कि वहां तो हीरालाल ही रहेगा। ब्यावर के कांग्रेस प्रत्याशी ने भी 5 से अधिक डिजायर लिखकर हीरालाल सैनी को बदलने की मांग की थी लेकिन उन पर भी कोई एक्शन नहीं हुआ।

कालवाड़ थाने में कार्रवाई हो जाती तो नहीं बढ़ती बात

जानकार सूत्रों की मानें तो कालवाड़ थाने में जब मुकदमा दर्ज करवाया गया था, उस समय यदि कमिश्नरेट के अधिकारी ध्यान दे देते तो यह वीडियो वायरल होने से बच जाता और पुलिस की इतनी छवि धूमिल नहीं होती।  निवर्तमान पूर्व वृताधिकारी हरिशंकर से हीरालाल सैनी ने भी मुलाकात की और ब्लैकमेलर पर कार्रवाई करके वीडियो बरामद करने की बात कही थी। लेकिन अधिकारियों ने उसे गंभीरता से नहीं लिया और आज देश भर में वीडियो वायरल हो गया। 

तलाक की बात पर राजी हुआ महिला कांस्टेबल का पति

जैसे ही यह वीडियो महिला कांस्टेबल के पति के हाथ लगा तो उसने इसकी रिपोर्ट पुलिस को दी। जिस पर पुलिस ने इसे दबाते हुए राजीनामे पर जोर दिया। बाद में जब बातचीत हुई तो महिला कांस्टेबल के पति ने आपसी सहमति से तलाक पर राजीनामा किया। बताया जा रहा है कि आगामी कुछ दिनों में ही तलाक की कोर्ट में तारीख भी है।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को