अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर क्लीन बोल्ड अभियान

 दहशतगर्दी के खिलाफ कमिश्नरेट पुलिस की दबिश



अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर क्लीन बोल्ड अभियान 

एनकाउंटर के भय से थानों के आसपास मंडराते रहे परिजन 

• कुल 341 अपराधियों के ठिकानों पर दी गयी दबिश • शुक्रवार सुबह 04.00 से अपराधियों के ठिकानों पर दबिश व तलाशी अभियान है जारी। 

• अपराधिक गतिविधियों में लिप्त सक्रिय 382 अपराधियों को किया गया था चिन्हित।


• अभियान में कुल 145 अपराधी गिरफ्तार, 21 प्रकरण दर्ज 68 वाहन जब्त,


हथियार, मादक पदार्थ एवं अवैध शराब बरामद ।


जयपुर 9 अक्टूबर। पुलिस आयुक्त जयपुर  आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि जयपुर शहर में ऐसे अपराधी जो हथियारों के साथ वारदात करते हैं, गली मौहल्लों में भय पैदा करते हैं, जमीन एवं सम्पति के विवादों को निपटाने में भय का माहौल पैदा करते हैं, आपराधिक गतिविधियां करते और आपराधिक गैंग के सदस्य है जो गंभीर अपराध करते है उनकी अपराधिक गतिविधियों में लगाम लगाने के लिये व उन पर सख्त कानूनी कार्यवाही करने के लिये शनिवार 09.10.2021 को सवेरे 04.00 बजे से सघन तलाशी व दबिश की कार्यवाही जयपुर कमिश्नरेट पुलिस द्वारा सभी 341 ठिकानों पर एक साथ की गयी। यह कार्यवाही अति गोपनीय और सुव्यवस्थित तरीके से की गयी जिससे अपराधी एक दूसरे को सतर्क न कर सकें।


 आनन्द श्रीवास्तव, पुलिस आयुक्त जयपुर ने बताया कि इन अपराधियों का चिन्हिकरण इनकें ठिकानों और इनकी गतिविधियों की जानकारी व निगरानी के लिये पुलिस उपायुक्त (अपराध)  दिगंत आनन्द, श्रीमती सुलेश चौधरी, अति. पुलिस उपायुक्त, संगठित अपराध, सीएसटी टीम प्रभारी  रविन्द्र प्रताप पुलिस निरीक्षक  खलील अहमद पुलिस निरीक्षक  पन्नालाल पुलिस निरीक्षक  नरेश मीणा पुलिस निरीक्षक एवं उनकी टीमों द्वारा विगत कुछ समय से तैयारी की गयी थी अपराधियों की आसूचना संकलन करने के पश्चात  अजयपाल लाम्बा, अति, पुलिस आयुक्त (प्रथम) व  राहुल प्रकाश अति. पुलिस आयुक्त (द्वितीय) जयपुर के निर्देशन में  परिस देशमुख, पुलिस उपायुक्त, जयपुर (उत्तर),  हरेन्द्र महावर, पुलिस उपायुक्त जयपुर (दक्षिण),  प्रहलाद कृष्णियां, पुलिस उपायुक्त जयपुर (पूर्व) व  प्रदीप मोहन शर्मा, पुलिस उपायुक्त जयपुर (पश्चिम) के नेतृत्व में अपराधियों के ठिकानों पर दबिश, गिरफ्तारी व कार्यवाही के निर्देश दिये गये जिस पर चारों जिलों के पुलिस उपायुक्त द्वारा जयपुर शहर के समस्त वृताधिकारी व थानाधिकारियों के सुपरवीजन में टीमें गठित हुयी। इस कार्यवाही में सीएसटी व डीएसटी की भी टीमें गठित की गयी और संयुक्त रूप से गठित टीमों ने पुरे जयपुर शहर में 341 स्थानों पर एक साथ दबिश देकर अपराधियों को घेरा आपराधिक ठिकानों की गहन तलाशी की गयी। पुलिस टीमों के द्वारा की गयी कार्यवाही के फलस्वरूप पुलिस ने अपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहे 185 लोगों को कार्यवाही के लिये पुलिस पूछताछ में लिया था। चारों जिलों में कुल 21 प्रकरण दर्ज हुये हैं और वांछित प्रकरणों व इंसदादी कार्यवाहियों में कुल 145 अपराधियों की गिरफ्तारी हुयी है व काफी मात्रा में हथियार, मादक पदार्थ अवैध शराब और संदिग्ध वाहन बरामद हुये है व फर्जी दस्तावेज भी बरामद हुये है।


अभियान का उद्देश्य:


 शहर में त्यौहारी सीजन पर शांति व्यवस्था कायम रखने अपराधियों में डर व आमजन में विश्वास कायम रखने, अपराधों पर लगाम लगाने हेतु अभियान में पुलिस टीमों की कार्यवाही जारी है।


 अपराधियों की सामाजिक प्रतिष्ठा (महिमा मंडन) को क्षति करना, अपराधी के निवास स्थान के क्षेत्रवासियों में सुरक्षा भावना पैदा करना गैंग अपराधों का अंकुश लगाना, फायर आर्म्स के प्रयोग पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से पुलिस टीमों द्वारा शहर में कार्यवाही जारी है।


अभियान की क्रियान्वितिः- कमिश्नरेट स्पेशल टीम (सीएसटी) व डीएसटी द्वारा अपराधियों की निगरानी व उनके ठिकानों की जानकारी कर 341 स्थान चिन्हित करने के पश्चात  अजयपाल लाम्बा अति. पुलिस आयुक्त (प्रथम) जयपुर के निर्देशन में आज चारों जिला पुलिस आयुक्तों के सुपरवीजन में व अति पुलिस उपायुक्त व सहायक पुलिस आयुक्त के निर्देशन व सुपरवीजन में सुबह 04.00 बजे से अपराधियों के ठिकानों व छुपने के स्थानों पर दबिशें दी गयी व अपराधियों की गिरफ्तारी व कानूनी कार्यवाही जारी की गयी हैं।


अभियान में की गयी कार्यवाही के परिणाम शहर में भारी भरकम पुलिस जाप्ते के साथ अपराधियों के ठिकानों पर दी गयी दबिश के कारण शहर भर के अपराधियों में खौफ पैदा हुआ है और इस कार्यवाही के दौरान कुल 185 अपराधिक गतिविधियों में शामिल लोगों को पुलिस टीमों द्वारा पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तार किये गये व्यक्तियों की संख्या 145 है जो विभिन्न प्रकरणों व इंसदादी कार्यवाहियों में गिरफ्तार हुये है। इन अपराधियों के पास मिले संदिग्ध 68 वाहनों को जब्त किया गया है। अभियान में पकड़े अपराधियों से पुलिस अभी पूछताछ कर रही है जिससे और भी वारदातों के खुलासे व फरार मुलजिमों की गिरफ्तारी की संभावना है। अभियान जारी है।


अभियान में नियोजित कुल पुलिस बल :


DCP- 05


ADCP- 12 INSPECTORS-74 SUASUHC/CT- 2487


ACP 20

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ